छात्राओं को समझाया जीवन में साक्षरता का महत्व

छात्राओं को समझाया जीवन में साक्षरता का महत्व

इटारसी। मध्य प्रदेश शासन उच्च शिक्षा विभाग (Madhya Pradesh Government Higher Education Department) के निर्देशानुसार शासकीय कन्या महाविद्यालय, इटारसी (Government Girls College, Itarsi) में आज विश्व साक्षारता दिवस के अवसर पर प्राचार्य डॉ. आरएस मेहरा (Principal Dr. RS Mehra) ने बताया कि देश के विकास और समाज के लिये उनके अधिकारों को जानने और सक्षारता की ओर मानव चेतना को बढ़ावा देने साक्षार होना अति आवश्यक है।

डॉ. संजय आर्य (Dr. Sanjay Arya) ने कहा कि साक्षरता न केवल लोगों को बेहतर जीवन जीने में मदद करती है, बल्कि गरीबी उन्मूलन, जनसंख्या को नियंत्रित करने, मृत्यु दर को कम करने आदि में भी मदद करती है। यह दिन लोगों को बेहतर शिक्षा के लिए प्रोत्साहित करने मनाया जाता है।

स्नेहांशु सिंह ने कहा कि सरकार की शिक्षा संबंधी योजनाओं की जानकारी देकर भी लोगों को साक्षर बना सकते है, जो आपके छोटे से प्रयास से अंधकारमय जीवन में एक नया दीपक जला सकती है। अमित पांडे, ने इस वर्ष की थीम ट्रांसफॉर्मिंग लर्निंग स्पेसेस बताते हुए कहा कि साक्षरता किसी भी देश के लिए बहुत जरूरी है। देश के जितने अधिक नागरिक साक्षर होंगे देश उतनी ही उन्नति कर सकता है।

डॉ. शिरीष परसाई ने कहा दिवस मनाने का प्रमुख उद्देश्य व्यक्तिगत, समुदाय और समाज में साक्षरता दर में वृद्धि करना है।

इस अवसर पर डॉ. हरप्रीत रंधवा, मंजरी अवस्थी, पूनम साहू, डॉ. रविन्द्र  चौरसिया, अमित कुमार, डॉ. मुकेश चन्द्र बिष्ट, डॉ. श्रद्धा जैन, राघवेन्द्र  राजपूत, तरूणा तिवारी, प्रिया कलोसिया, क्षमा वर्मा, रश्मि मेहरा, सरिता मेहरा, हेमंत गोहिया, राजेश कुशवाहा एवं छात्राएं उपस्थित थीं।

TAGS
Share This

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus (0 )
error: Content is protected !!