Dussehra 2022

Disclaimer: यहां दी गई जानकारियां आस्था और मान्यताओं पर आधारित हैं. Narmadanchal.com इस बारे में कोई पुष्टि नहीं करता है. इसे सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर यहां प्रस्तुत किया गया है.

Dussehra 2022

दशमी तिथि को हिंदुओं का प्रमुख त्योहार दशहरा (विजयादशमी) मनाया जाएगा।  कहा जाता है कि इस दिन मां दुर्गा ने महिषासुर और भगवान श्रीराम ने रावण का अंत किया था।

Dussehra 2022

ज्योतिषाचार्यों की मानें तो इस दिन किए गए टोटके, दान और पूजा बहुत असरदार होते हैं। इस दिन शस्त्रों और वाहनों की पूजा भी की जाती है।

Dussehra 2022

विजयादशमी के दिन किसी मंदिर में नई झाड़ू दान करने से घर में मां लक्ष्मी का आगमन होता है।

Dussehra 2022

इस दिन सोना, चांदी, गाड़ी आदि कीमती चीजों को खरीदना बहुत शुभ माना जाता है। इस दिन रावण के पुतले का अस्थि अवशेष घर लाई जाती है। जिससे आपके घर में कुबेर का स्थायी वास हो जाता है।

Dussehra 2022

दशहरे के दिन रावण दहन के बाद अन्न, जल और कपड़े का गुप्त दान करने से मां लक्ष्मी की कृपा सदैव बनी रहती है।

Dussehra 2022

विजयादशमी के दिन नीलकंठ पक्षी के दर्शन पाना बहुत शुभ माना जाता है। पान को विजयी का प्र​तीक माना जाता है। इसलिए इस दिन पान खिला कर विजय दिवस मनाया जाता है।

Dussehra 2022

इस दिन किसी भी स्त्री या बड़े बुजुर्ग का भूलकर भी अपमान नहीं करना चाहिए। दशहरे के दिन कोई नई चीज खरीद कर घर में लाने से साल भर घर में सुख-समृद्धि बनी रहती है।

Dussehra 2022

दशहरे की रात यदि आप अपने घर के मुख्य द्वार पर नींबू मिर्ची टांगते हैं, इससे आपके घर में नकारात्मक शक्तियों का वास नहीं होता और आपके हर काम आसानी से पूरे हो जाते हैं.

Dussehra 2022

दशमी तिथि प्रारंभ – 4 अक्टूबर, दोपहर 02 बजकर 20 मिनट से दशमी तिथि समापन -5 अक्टूबर, दोपहर 12 बजे विजय मुहूर्त :14:07 से 14:54 तक अपराह्न मुहूर्त : 13:20 से 15:41 तक