BREAK NEWS

राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई द्वारा आयोजित हुआ विश्व साक्षरता दिवस

राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई द्वारा आयोजित हुआ विश्व साक्षरता दिवस

इटारसी। शासकीय महाविद्यालय सुखतवा (Government College Sukhtwa) की राष्ट्रीय सेवा योजना (National service Scheme) इकाई ने लोगों को साक्षर बनाने हेतु विश्व साक्षरता दिवस का आयोजन किया।

इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि प्राचार्य डॉ.नीता राजपूत (Principal Dr. Neeta Rajput), विशिष्ट वक्ता डॉ.वेद प्रकाश भारद्वाज (Distinguished Speaker Dr.Ved Prakash Bhardwaj), डॉ मंजू मालवीय (Dr. Manju Malviya) के साथ महाविद्यालय के समस्त छात्र छात्राएं उपस्थित थे। मुख्य वक्ता के रूप में डॉ वेद प्रकाश भारद्वाज (Distinguished Speaker Dr.Ved Prakash Bhardwaj) ने बताया कि साक्षर होना आवश्यक है क्योंकि यदि हम साक्षर नहीं होंगे तो आज के समय में हम इस युग में बहुत पीछे हो जाएंगे।
साक्षरता का तात्पर्य यह नहीं कि सिर्फ पढ़ाई लिखाई हो। साक्षरता का अर्थ ज्ञान एवं शिक्षा से है, जिसमें आपको अपनी रुचि जागृत करना मुख्य उद्देश होता है। मुख्य अतिथि डॉ.नीता राजपूत (Principal Dr. Neeta Rajput) ने बताया कि विश्व साक्षरता दिवस (world literacy day) की शुरुआत यूनेस्को के द्वारा की गई इसका मुख्य उद्देश्य सभी महिला पुरुष बच्चों को साक्षर करना उन्हें अक्षर का ज्ञान दिलवाना मुख्य उद्देश्य है।
डॉ.मंजू मालिनी (Dr. Manju Malviya) ने बताया कि किसी को भी शब्द के ज्ञान के साथ अंकों का ज्ञान भी कराया जाना चाहिए जिससे वह अपने कार्य को करने में ना डरे।
महाविद्यालय के राष्ट्रीय सेवा योजना कार्यक्रम अधिकारी डॉ राधा आशीष पांडे (National Service Scheme Program Officer Dr. Radha Ashish Pandey) ने बताया कि विश्व साक्षरता दिवस (world literacy day) मनाने के संबंध में 7 सितंबर 1965 को यूनेस्को ने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर बताया कि 8 सितंबर से प्रतिवर्ष राष्ट्रीय सेवा योजना (National service Scheme) के माध्यम से विश्व साक्षरता दिवस मनाया जाएगा क्योंकि यह एक ऐसी इकाई है जो ग्रामीण क्षेत्रों में ग्रामीणों से जुड़कर कार्य करती है और उनसे उनकी परेशानियों से अवगत कराती है।
साथ ही रासेयो सत्र की प्रथम कक्षा का आयोजन किया गया, जो रासेयो परिचय पर आधारित थी। रासेयो इकाई द्वारा ज्वाइन NSS अभियान चलाया गया जिसमें नवीन प्रवेशित एवं महाविद्यालय में अध्ययनरत छात्र-छात्राओं ने पंजियन कराने हेतु प्रेरित किया। कार्यक्रम का आयोजन प्राचार्य के संरक्षण में, संचालन डॉ राधा आशीष पांडे कार्यक्रम अधिकारी, रासेयो एवं आभार डॉ प्रवीण कुशवाह ने किया। और बच्चो के साथ साथ शिक्षकों ने भी आज संकल्प लिया कि वह सभी ग्रामीणों को साक्षर बनाने का संकल्प लिया।
TAGS
Share This

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!