तीन दोस्तों ने की थी अंकित सोनी की हत्या

तीन दोस्तों ने की थी अंकित सोनी की हत्या

होशंगाबाद। पुलिस ने अंकित सोनी हत्याकांड का गुरुवार को खुलासा कर दिया है। उसकी गुमशुदगी उसके परिवार की तरफ से उसकी पत्नी करिश्मा सोनी ने देहात थाने में 9 फरवरी को दर्ज करायी थी। 11 फरवरी को एसपीएम के कामगार कल्याण केन्द्र में अंकित का शव मिला था। उसकी हत्या शराब के नशे में उसके ही दोस्तों ने की थी। पुलिस के अनुसार उसके तीन दोस्तों से विवाद के बाद पत्थर से कुचलकर उसकी हत्या की गई थी। शव इतना खराब हालत में हो गया था कि उसका पोस्टमार्टम भोपाल भेजकर कराना पड़ा था।
गुरुवार को पुलिस ने प्रेस वार्ता के दौरान हत्याकांड का खुलासा करते हुए बताया कि अंकित सोनी की हत्या उसके तीन दोस्तों ने मिलकर की थी। पुलिस ने तीनों आरोपियो को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस अधीक्षक संतोष गौर के मार्गदर्शन में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक घनश्याम मालवीय, एसडीओपी मोहन सारवान के निर्देशन में कोतवाली पुलिस ने इस बात का खुलासा किया।
आरोपी भूपेंद्र ने पुलिस को बताया कि उन्होंने अंकित सोनी के साथ एसपीएम कामगार कल्याण केंद्र के पास बने शेड में बैठकर शराब पीयी थी। इसी दौरान अंकित सोनी का भूपेंद्र भुट्टा, सोनू नामदेव, आदर्श जाधव से विवाद हुआ। सोनू नामदेव ने अंकित की एक्टिवा गाड़ी की चाबी निकाल ली। इस पर अंकित की सोनू और भूपेंद्र से विवाद के बाद मारपीट हुई। इस दौरान अंकित जमीन पर गिर गया तो आरोपियों ने अंकित के सिर पर पत्थर मारकर उसकी हत्या कर दी। इसके बाद सोनू नामदेव और आदर्श जाधव वहां से चले गये। बाद में भूपेंद्र अपने नाबालिग दोस्त के साथ वहां आया और अंकित की लाश फिर पत्थर पटके, लाश को झाडिय़ों में पटका और उसकी जेब से मोबाइल, पर्स निकालकर भाग गये। पुलिस ने जांच के दौरान मिले तथ्य के आधार पर चार आरोपियों को गिरफ्तार किया। पूछताछ में इन्होंने घटना करना स्वीकार किया।

ये हैं हत्या के आरोपी
मुख्य आरोपी भूपेंद्र उर्फ भुट्टा पिता राजेंद्र रोडे 21 साल निवासी गौरव नगर, सूर्या सोनू नामदेव ऑफ चूचू पिता विष्णु नामदेव 26 साल निवासी लश्कर चौक, आदर्श पिता रामा यादव 20 साल निवासी संजय नगर ग्वालटोली, एक नाबालिग उम्र 17 साल निवासी गीता भवन रसूलिया।

खुलासे में भूमिका
हत्याकांड के खुलासे में थाना प्रभारी विक्रम रजक के साथ उपनिरीक्षक नरेन्द्र लिल्होरे, सहायक उपनिरीक्षक संजय पांडे, प्रधान आरक्षक पावेल मसीह, आरक्षक आशीष गीते, अंकित धनगर, महेन्द्र तेकाम, विशाल भदौरिया, प्रीतम बावरिया, रवि कुशवाह, वीरेन्द्र श्रीवास्तव, शैलेन्द्र, मेहरबान सिंह की मुख्य भूमिका रही।

CATEGORIES
TAGS
Share This

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: