गर्मी तथा लू से बचाव की सलाह

गर्मी तथा लू से बचाव की सलाह

होशंगाबाद। जिले के तापमान में लगातार वृद्धि हो रही है। प्रात: 11 बजे के बाद से ही तपन बढ़ जाती है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.दिलीप कटेलिया ने आमजनता को गर्मी तथा लू से बचाव की सलाह दी है। उन्होंने कहा है कि गर्मी के दिनो में अपने घरो को ठंडा रखे। गर्मी के दिनों में जहां तक संभव हो खुले में धूप में न जाए। यदि धूप में जाना आवश्यक हो तो धूप तथा गर्मी से बचाव के पूरे उपाय करे। धूप से बचने के लिए छाते, सूती तोलिया, दुपट्टे एवं टोपियो का उपयोग करे। घर से खाली पेट बाहर न निकले। घर से बाहर निकलने से पूर्व पर्याप्त मात्रा में पानी पिये। तापमान के परिवर्तनो से शरीर को बचाने के लिए सूती वस्त्रो का उपयोग करें।
उन्होंने बताया कि अधिक धूप और तापमान में रहने के कारण शरीर से लगातार पसीना निकलता है। इससे शरीर को निर्जलीकरण का खतरा रहता है। निश्चित अंतराल से पर्याप्त मात्रा में ठंडा पानी तथा शीतल पेय पदार्थ लेते रहे। आंखो को धूप से बचाने के लिए रंगीन चश्मे का उपयोग करे। गर्मी के दिनो में चक्कर आना, घबराहठ, अत्यधिक प्यास लगना, सरदर्द तथा हाथ पैरो में जकड़न की शिकायत होने पर शीघ्र ठंडी जगह पर जाकर आराम करे। शरीर में यदि लू का प्रकोप हो गया है तो तत्काल चिकित्सक की सलाह के अनुसार उचित उपचार कराएं। लू से पीड़ित व्यक्ति को छावदार ठंडे स्थान पर रखे। उनके शरीर को ठंडे पानी से भिगोये हुए कपड़े से ढंक दे। गर्मी से बचने के लिए ठंडे पानी, नीबू पानी, लस्सी तथा छाछ का उपयोग करे। अपने घर में ओआरएस के पैकेट अवश्यक रखे। डीहाइड्रेशन का प्रकोप होने पर इसका साफ पानी में घोल बनाकर पीड़ित व्यक्ति को नियमित रूप से पिलाए। गर्मी में रोगो से बचाव के लिए खान पान पर विशेष ध्यान दें। खुले में रखे खाद्य पदार्थो तथा दूषित खाद्य पदार्थो का सेवन न करें।

CATEGORIES
Share This
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: