Breaking News

देशज़ का अगला पड़ाव कालिदास की नगरी में

देशज़ का अगला पड़ाव कालिदास की नगरी में

देशज़ का अगला पड़ाव कालिदास की नगरी में

उज्जैन। पिछले वर्ष इटारसी में लोक कलाओं के माध्यम से अमिट छाप छोडऩे वाले संगीत नाटक अकादमी के कार्यक्रम देशज का अगला पड़ाव फिर मध्यप्रदेश है। अब यह कालिदास की नगरी उज्जैन में होगा। अकादमी से जुड़े प्रवीण दुरेजा ने बताया कि वर्ष 2013 से संगीत नाटक अकादेमी द्वारा देश के लोक एवं जनजातीय संगीत, नृत्य और नाट्य के प्रचलित विविध रूपों से सम्बद्ध कलाकारों को प्रोत्साहित करने और इन कलाओं के विकास के लिए देश के विभिन्न क्षेत्रों में हर साल देशज महोत्सव का श्रृंखलाबद्ध तरीके से आयोजन किया जाता रहा है। अब तक दिल्ली, पटना, हैदराबाद, जमशेदपुर, रइरंगपुर, दरभंगाए आजमगढ़, इम्फाल, काकचिंग, कानपुर, ठठिया, कुरुक्षेत्र एवं इटारसी में देशज का सफल आयोजन किया जा चुका है।
इस श्रृंखला का अगला पड़ाव उज्जैन है, संगीत नाटक अकादेमी, नई दिल्ली एवं कालिदास संस्कृत अकादेमी, उज्जैन के सहयोग से 24 से 28 मई 2017 तक पं. सूर्यनारायण व्यास संकुल सभागार, कालिदास संस्कृत अकादेमी, उज्जैन में भारत की विविध सांस्कृतिक अभिव्यक्तियों के उत्सव देशज का आयोजन किया जा रहा है। इस उत्सव में देश के 24 प्रांतों से लगभग 400 कलाकार अपनी कला का प्रदर्शन करेंगे।

error: Content is protected !!