दिन में मांगी नौकरी, रात को हजारों ले उड़ा

दिन में मांगी नौकरी, रात को हजारों ले उड़ा

इटारसी। नेशनल हाईवे 69 पर संचालित एक ढाबे पर एक युवक ने दिन में खुद को गुना का निवासी बताकर नौकरी मांगी और फिर ढाबा संचालक ने उस पर दया दिखाकर नौकरी दे दी, रात को खाने में नशीली वस्तु मिलाकर युवक ने ढाबा पर मौजूद संचालक और उसके साथियों को बेहोश कर दिया और हजारों की चपत लगाकर रातों-रात फरार हो गया। सुबह समीप के अन्य ढाबा संचालक ने आकर सभी को जगाया, तब जाकर घटना का पता चला।
मिली जानकारी के अनुसार एनएच पर धांसई गांव के पास संचालित न्यू पंजाबी ढाबा के मालिक जसविंदर सिंघ पिता किरपाल सिंघ 24 वर्ष ने शिकायत दर्ज करायी कि 2 जून को दोपहर करीब 1 बजे एक युवक ने आकर अपना नाम बृजमोहन बताया और ढाबे पर काम मांगा। उसने बताया कि वह गुना तरफ के ढाबों पर काम करता था। उस वक्त ढाबा संचालक जसविंदर के चाचा सुरेन्द्रर सिंह भी थे। इन लोगों ने उसे नौकरी पर रख लिया। शाम 6 बजे उसके चाचा सुरेन्दर और परमजीत घर चले गए।
रात करीब 12 बजे ब्रजमोहन ने सेव-टमाटर की सब्जी और रोटी बनायी। जसविंदर और भाई मनिंदर के अलावा एक ट्रक वाले रामनिवास, उसका बेटा अभिषेक और एक अन्य कर्मचारी मंगलिया ने खाना खाया। युवक ने खाने में नशीला पदार्थ मिलाकर खिला दिया था जिससे वे गहरी नींद में सो गये इसी बीच नौकर ने जेब में रखे नगद रुपए, गले की चैन, अंगूठी, नकदी व बाइक ले उड़ा। ढाबा मालिक को पुलिस व परिजनों ने अस्पताल में भर्ती कराया है।
आरोपी ब्रजमोहन ने मनिंदर सिंह की गले की चैन जसविंदर उर्फ राहुल की अंगूठी व गल्ले में रखे 11 हजार रुपए व ड्रायवर की जेब से 10 हजार रुपए के साथ बाइक चोरी कर ले गया। घटना के बाद जहरखुरानी का शिकार हुए युवकों को पुलिस व उनके परिजनो नें उपचार के लिये अस्पताल में भर्ती कराया। उपचार के दौरान मंगलिया को होश आ गया है वहीं मनिंदर सिंह व जसविंदर सिंह बेहोश हैं। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ धारा 328 जहरखुरानी व धारा 379 चोरी का प्रकरण दर्ज कर जंाच में लिया है। चोरी गए सामान की कीमत 71 हजार रुपए बतायी जा रही है।

Tagged with
error: Content is protected !!