बाल मजदूरों की बढ़ती संख्या पर जतायी चिंता

बाल मजदूरों की बढ़ती संख्या पर जतायी चिंता

इटारसी। राष्ट्रीय घरेलू एवं असंगठित कामगार संघ (National Domestic and Unorganized Workers’ Union) के राष्ट्रीय सचिव नरेंद्र वर्मा ने कहा है कि नर्मदापुरम (Narmadapuram) जिले में तेजी से बाल मजदूर (Child Labor) बढ़ रहे हैं। बाजारों में सैकड़ों की संख्या में बाल मजदूर काम करते देखे जा सकते हैं। कई दुकानदार उनसे भारी-भरकम काम कराते हैं। 12-12 घंटे बालकों व किशोरों से काम लिया जाता है। चंद रुपयों में बालकों से घंटों तक भारी भरकम काम कराया जाता है। एक बयान के माध्यम से उन्होंने नगरीय निकाय के अधिकारियों से मांग की है कि एक कमेटी गठित करके बाजार में निरीक्षण किया जाए ताकि बाल मजदूरी को रोका जा सके। उन्होंने कहा कि बाजार में बच्चों से काम तो कराया जाता है लेकिन, उनके स्वास्थ्य का ध्यान नहीं रखा जाता है। बाल मजदूरी अपराध है। उन्होंने नर्मदापुरम संभाग सहायक श्रम आयुक्त एवं जिला प्रशासन से मांग की है कि समस्त नगर पालिका, नगर पंचायत एवं जनपद पंचायत स्तर पर जांच कमेटी गठित की जाए एवं बाजारों में सघन निरीक्षण कर बाल मजदूरी कराने वाले लोगों पर उचित दंडात्मक कार्रवाई की जाए।



CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

COMMENTS

error: Content is protected !!