Fastag क्‍या हैं जाने यह कैसे काम करता हैं सम्‍पूर्ण जानकारी…
फास्टैग क्या हैं, फास्टैग कार्य कैसे करता हैं,कब से हुई फास्‍टैग की शुरूआत जाने सम्‍पूर्ण जानकारी Full Details in Hindi... 

Fastag क्‍या हैं जाने यह कैसे काम करता हैं सम्‍पूर्ण जानकारी…

फास्टैग क्या हैं, फास्टैग कार्य कैसे करता हैं,कब से हुई फास्‍टैग की शुरूआत जाने सम्‍पूर्ण जानकारी… 

फास्टैग क्या हैं (What Are Fastag)  

Fastag

Fastag का पूरा नाम इलेक्ट्रॉनिक टोल संग्रह प्रणाली हैं। राष्ट्रीय राजमार्ग से वाहन को गुजारने के लिए सरकार द्वारा टोल टैक्स लिया जाता हैं। अभी तक टोल का भुगतान कैश करना होता था। पर अब सरकार ने इसको ऑनलाइन कर दिया हैं। फास्टैग एक उपकरण होता हैं जो वाहन के सामने वाले कांच पर लगाया जाता हैं। उसे ही फास्टैग कहा जाता हैं।

फास्टैग कैसे काम करता हैं (How Fastag Works)

Fastag

फास्‍टैग में रेडियो फ्रिकवेंसी आईडेंटिफिकेशन (आर एफ आई डी) लगा होता हैं। जैसे ही गाड़ी टोल के पास गुजरती हैं। तब टोल पर लगा सेंसर के द्वारा वाहन के कांच पर लगे फास्टैग को स्‍केन करके आटो‍मेटिक आपके फास्टैग अकाउंट से टोल शुल्क काट लेता हैं। जिससे आप बिना वहां रुके अपना टोल टेक्स का भुगतान कर पाते हैं।

कब से हुई फास्‍टैग की शुरूआत (When Did Fastag Start)

Fastag

भारत में फास्‍टैग सिस्टम सबसे पहले अहमदाबाद और मुंबई हाईवे के बीच 2014 में शुरू किया गया था। फिर जुलाई 2015 में इसे चेन्नई-बेंगलुरु टोल पर शुरू कर दिया गया और वर्ष 1 दिसंबर 2019 से सभी प्रकार चार-पहियां वाहनों पर फास्टैग लगाना अनिवार्य हो गया हैं। अभी तक देश में 332 टोल नाकों पर इस सुविधा को शुरू कर दिया गया हैं।

फास्टैग लगाने के फायदे (Benefits of Installing Fastag)

ट्राफिक लगने से छुटकारा व समय की बचत (Save Traffic And Time)

Fastag

जैसे ही गाड़ी टोल के पास गुजरती हैं। तब टोल पर लगा सेंसर के द्वारा वाहन के कांच पर लगे फास्टैग को स्‍केन करके आटो‍मेटिक आपके फास्टैग अकाउंट से टोल शुल्क काट देता हैं इससे ट्राफिक जैसे समस्‍याओ का समाधान अपने आप हो गया हैं जिससे समय की भी काफी बचत होती हैं।

डीजल और पेट्रोल की बचत (Diesel And Petrol Savings)

Fastag

फास्ट टैग के साथ ऑनलाइन टोल टैक्स भरने की सुविधाएं में आपको आपको अब ट्रफिक मे खडा नहीं होना पडता जिससे डीजल और पेट्रोल की भी बचत होती हैं।

कैशबैक की सुविधा (Cashback Facility)

Fastag

टोल टैक्स ऑनलाइन पे करने पर कैशबैक भी दिया जाता हैं। साल 2016-17 के बीच फास्टैग के उपयोग से जो भी लोग ऑनलाइन टोल टैक्स पे करते थे उन्हें 10% तक कैशबैक दिया जाता था।  साल 2017-18 में यह कैशबैक 7.5% तक मिला। और साल 2018-19 में यह घटकर 5% तक आ गया और अभी 2020-21 में 2.5% पर हैं। फास्टैग के माध्यम से मिलने वाला कैशबैक लगभग 1 सप्ताह के अंदर आपके फास्टैग बैंक खाते में आ जाता हैं।

पैसा कटने पर SMS की सुविधा (Facility Of Deducting Money Through SMS)

Fastag

यदि आपने वाहन पर फास्टैग लगा हैं और किसी भी टोल टेक्‍स से गुजरेंगे तो इस दौरान टोल पर लगा सेंसर आपकी फास्टैग को अपने संपर्क में आते ही टोल टैक्स की राशि वसूल कर लेगा और इसकी जानकारी आपको तुरंत एक SMS  मैसेज के माध्यम से दी जाती हैं। इसमें आपके फास्टैग अकाउंट से कटी हुई राशि की सम्‍पूर्ण विवरण होता हैं।

गांव के लोगों के लिए होगी विशेष सुविधा (There will be special facility for the people of the village)

Fastag

यदि कोई गांव राष्ट्रीय राजमार्ग के आसपास होते हैं तो 20 किलोमीटर के दायरे में आने वाले सभी गांव के वाहन चालक मात्र 275 रूपये में एक महीने का रिचार्ज करा सकते हैं। वह अपने आधार कार्ड को दिखाकर इस सुविधा का लाभ उठा सकते हैं।

फास्टैग कैसे करें रिचार्ज (How To Recharge Fastag)

Fastag

Fastag का रिचार्ज आप अपने डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड, नेट बैंकिंग, गूगल पे, फोन पे, से रिचार्ज कर सकते हैं। फास्टैग बैंक अकाउंट पर कम से कम ₹100 और अधिक से अधिक एक लाख तक का रिचार्ज किया जा सकता हैं।

गूगल पे से फास्टैग रीचार्ज कैसे करें (How To Recharge Fastag With Google Pay)

Fastag

  • सबसे पहले आपको अपने स्मार्टफोन में गूगल पे एप्लीकेशन को ओपन करना होगा। जिसमे आपके द्वारा दिया गया सिक्योरिटी पिन माँगा जायेगा।
  • इसके बाद आपको New Button पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने जो पेज खुलेगा उसमे पे का एक टैब खुलेगा। जहाँ पर आपको पेमेंट करने के लिए UPI ID पर क्लिक करना होगा। यहाँ पर आपको अपनी UPI ID डालनी हैं।
  • इसके बाद आपके सामने एक वेरीफाई बटन पर आपको क्लिक करना हैं। जब आप इस बटन पर क्लिक करेंगे तो आपके सामने बैंक पेमेंट का एक ऑप्शन खुल जायेगा।
  • यहाँ पर आप पेमेंट करने के लिए अपने मौजूदा बैंक का चयन करें। इसके बाद पेमेंट  बटन पर क्लिक करें। यहाँ पर आपको उतने पैसे ही डालने हैं जितने आप फास्टैग में रिचार्ज करना चाहते हैं।
  • अगर आप पहली बार ऑनलाइन पेमेंट कर रहे हैं तो आप बैंक की टेस्टिंग के लिए शुरुआत में 1 रुपया भेजे। जब आपके द्वारा भेजा गया एक रुपया आपके खाते में चला जाएँ, इसके बाद ही पूरा भुगतान करें। फास्टैग रिचार्ज होते ही आपको SMS मे माध्‍यम से जानकारी प्राप्‍त हो जायेगी।

गूगल पे से पेमेंट करना हुआ अब और भी आसान जाने इस फीचर के बारे में यह भी देखें…

फास्‍टैग ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कैसे करें (How To Register Fastag online)

Fastag

  • सबसे पहले आपको फास्टैग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • वहा आपको एक एप्लीकेशन फार्म प्राप्त करना होगा।
  • फास्टैग एप्लीकेशन फार्म को भरने से पहले आप अपने बैंक का चुनाव अवश्‍य कर लें जिससे आप फास्टैग लेना चाहते हैं। जब आप बैंक का चयन करने हैं, तो आपके सामने एक नया पेज खुलता है।
  • इस नए पेज में सभी मांगी गयी जानकारी को भरकर फास्टैग के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।
  • जब आप इस पेज पर आते हैं तो आपके सामने एक फास्‍टैग का लिंक ओपन होगा जिस पर आपको क्लिक करना हैं।
  • यहाँ आपको एक छोटा सा डिस्कलमैर दिखाई देगा जिसे आप Agree करके क्लिक करें।
  • जब आप इस पर क्लिक करते हैं तो आपके सामने के नया फार्म फिर से खुलकर आएगा। यहाँ पर आपको अपने वाहन से जुड़ी सभी जानकारियां भरनी हैं इसके अलावा कुछ डॉक्यूमेंट अपलोड करने हैं।
  • सभी जानकारी और दस्तावेजों को भरने के बाद अंत में आपको सबमिट करना हैं इसके बाद आपके सामने सभी जानकारी आ जाएगी की किस तरह से आपको फास्टैग मिलेगा।
  • साथ ही जिस बैंक का आपने चयन किया था वह बैंक आपके नाम की एक स्लिप तैयार करके आपको देगा। जिसके माध्यम से आप अपने फास्टैग कार्ड को अपने बैंक कहते से लिंक कर सकते हैं।
CATEGORIES
Share This

COMMENTS

error: Content is protected !!