इंजीनियरिंग छात्रों के लिए होशंगाबाद में बना परीक्षा केन्द्र

इंजीनियरिंग छात्रों के लिए होशंगाबाद में बना परीक्षा केन्द्र

इटारसी। इंजीनियरिंग के अंतिम वर्ष के छात्र-छात्राओं को जिले से बाहर परीक्षा देने नहीं जाना पड़ेगा। राजीव गांधी प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय ने शासकीय पॉलिटेक्निक कालेज होशंगाबाद को परीक्षा केन्द्र बनाया है। इसके साथ ही जिले के विद्यार्थियों की एक बड़ी चिंता का निदान हो गया है।
दरअसल, राज्य सरकार ने फाइनल ईयर के स्टुडेंट की परीक्षा लेने का निर्णय लिया है। इंजीनियरिंग के छात्रों के लिए सेंटर की च्वाइस भोपाल रखी गयी। ऐसे में विद्यार्थियों के सामने समस्या यह थी कि ट्रेनें बंद हैं और सुबह पेपर देने बाइक या अपने किसी साधन से जाया नहीं जा सकता था। ऐसे में विधायक डॉ.सीतासरन शर्मा ने राजीव गांधी प्रौद्योगिक विश्वविद्यालय के कुलपति से चर्चा कर छात्रों की सुविधा अनुसार होशंगाबाद जिले में ही परीक्षा केन्द्र बनाने को कहा। कुलपति ने इसमें सहमति दे दी है और होशंगाबाद को परीक्षा केन्द्र बना दिया है। जिला प्रशासन भी इसकी तैयारी कर रहा है।
विधायक डॉ.सीतासरन शर्मा के ध्यान में यह मामला पत्रकार चंद्रकांत अग्रवाल लेकर आये थे। श्री अग्रवाल ने सांसद उदयप्रताप सिंह को भी इसकी जानकारी दी थी और सांसद ने भी वीसी से बात करके उनको बताया था कि उनकी बात हो गयी है, वीसी सहमत हैं। श्री अग्रवाल ने बताया कि पहले परीक्षा फार्म भरने के वक्त इटारसी और होशंगाबाद सेंटर बताये गये थे। लेकिन, फिर दोनों शहरों को हटा दिया और निकट का केन्द्र भोपाल दर्शाया। ऐसे में दिक्कत यह है कि ट्रेनें स्पेशल ही चल रही हंै, जिनमें बिना रिजर्व टिकट के यात्रा संभव नहीं है। कई स्टुडेंट इतने सक्षम नहीं कि वे कार आदि से जा सकें। सुबह की शिफ्ट में पेपर होने से बाइक से जल्दी भोपाल पहुंचना संभव नहीं। यदि किसी तरह से तीन घंटे के बाइक से सफर करके स्टुडेंट पहुंच भी जाता है तो वह परीक्षा देने की स्थिति में नहीं रह सकेगा। इन सारी परेशानियों के बाद विधायक डॉ. शर्मा ने विवि के कुलपति से बात की तो वे इस बात से राजी हो गये। सांसद और विधायक के प्रयासों को सफलता मिली और इंजीनियरिंग के विद्यार्थियों और उनके परिजनों ने सांसद एवं विधायक का इसके लिए आभार व्यक्त किया है।
विधायक डॉ.सीतासरन शर्मा को कलेक्टर धनंजय सिंह ने आश्वस्त किया है कि जिला प्रशासन सारी तैयारी करेगा और यहां परीक्षा करायी जा सकेगी। बताया जाता है कि इस पूरे मामले को अतिरिक्त कलेक्टर जीपी माली देख रहे हंै। सांसद प्रतिनिधि दीपक हरिनारायण अग्रवाल को भी विधायक डॉ. शर्मा ने अधिकारियों से बातचीत करके मामले का हल निकालने की जिम्मेदारी दी थी। श्री अग्रवाल का कहना है कि कंट्रोलर डॉ.एके सिंह से और जिला प्रशासन के साथ ही पॉलिटेक्निक कालेज होशंगाबाद के प्राचार्य से उनकी बात हुई है और अब होशंगाबाद पॉलिटेक्निक कालेज में परीक्षा केन्द्र बनाया गया है।

CATEGORIES
TAGS

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: