लॉकडाउन (Lockdown) : विरोध के बाद प्रशासन ने कदम वापस खींचे

लॉकडाउन (Lockdown) : विरोध के बाद प्रशासन ने कदम वापस खींचे

निर्णय पर व्यापारियों में एकराय नहीं
इटारसी। बुधवार को शहर लॉकडाउन (Lockdown) नहीं होगा। दरअसल, इस मसले पर व्यापारियों में एकराय नहीं है और व्यापारियों के इस पर विवाद की स्थिति बनते देख प्रशासन ने अपने कदम वापस खींच लिये। दोपहर में एसडीएम सतीश राय (SDM Itarsi Satish Rai)को स्वयं सोशल मीडिया पर यह कहना पड़ा कि लॉकडाउन (Lockdown) नहीं होगा, अफवाहों पर ध्यान न दें। शाम को स्वयं विधायक डॉ.सीतासरन शर्मा (MLA Hoshanagabad Dr. Sitasaran Sharma)ने भी आज बयान दिया है कि कल के निर्णय पर पुनर्विचार किया है, शहर में अभी लॉकडाउन (Lockdown) नहीं होगा।
रेस्ट हाउस में एसडीएम सतीश राय (SDM Itarsi Satish Rai) और विधायक डॉ.सीतासरन शर्मा (MLA Hoshanagabad Dr. Sitasaran Sharma) की मौजूदगी में व्यापारिक संगठनों के प्रतिनिधियों ने एक सप्ताह के लॉकडाउन पर जो सहमति जतायी थी, उससे असहमत होते हुए अनेक व्यापारियों ने इस निर्णय का तीखा विरोध किया और सोमवार को सारा दिन यह कवायद में चला गया कि लॉकडाउन (Lockdown) न लगे। प्रशासन ने कोविड-19 (Covid 19) की लगातार बढ़ती संख्या को देखते हुए लॉकडाउन (Lockdown) का निर्णय भी व्यापारियों की सहमति से लिया था। लेकिन, व्यापारी अपने उन्हीं प्रतिनिधियों से असहमत हो गये, जिन्हें उन्होंने अपना प्रतिनिधित्व के लिए चुना था।

अपने ही प्रतिनिधियों की नहीं मानी
संगठन जब बनता है, तो प्रशासन और शासन के समक्ष अपना प्रतिनिधित्व करने के लिए उस संगठन के सदस्य प्रतिनिधि चुनते हंै। लेकिन, कुछ व्यापारियों ने प्रतिनिधियों की भी नहीं मानी और प्रशासन के साथ लॉकडाउन (Lockdown) के निर्णय पर असहमति जताते हुए कह दिया कि चार आदमी निर्णय नहीं ले सकते। यहीं से विरोध प्रारंभ हुआ और सर्राफा बाजार में बैठक के बाद व्यापारियों ने विधायक डॉ. शर्मा (MLA Hoshanagabad Dr. Sitasaran Sharma) और एसडीएम श्री राय (SDM Itarsi Satish Rai) के समक्ष बात रखने और पुनर्विचार का प्रस्ताव रखा। आज प्रशासन बैकफुट पर आया और बुधवार से टोटल लॉकडाउन के निर्णय को वापस लेना पड़ा।

पुनर्विचार कर निर्णय वापस
विधायक डॉ.सीतासरन शर्मा (MLA Hoshanagabad Dr. Sitasaran Sharma) ने भी कहा है कि शहर में अभी टोटल लाकडाउन नहीं होगा। उनका कहना रहा कि कल हुए निर्णय पर पुनर्विचार किया गया है। व्यापारियों एवं नागरिकों की समस्या को देखते हुए निर्णय लिया गया है। बताया जाता है कि अब प्रशासन लॉकडाउन (Lockdown) की जगह संक्रमण को रोकने के लिए विधायक डॉ. शर्मा (MLA Hoshanagabad Dr. Sitasaran Sharma) के मार्गदर्शन में कार्ययोजना बना रहा है। लॉकडाउन (Lockdown) नहीं करके कुछ बदलाव के साथ छूट देने की प्लानिंग की जा रही है। संक्रमण को देखते हुए बाजार का संचालन कैसे हो, इस पर मंथन करने के बाद कोई प्लान सामने आ सकता है।

व्यापारियों ने सौंपा ज्ञापन
आज दोपहर 12 बजे व्यापारी उपस्थित हुए और लॉकडाउन (Lockdown) पर असहमत होकर प्रशासन से फैसले पर पुनर्विचार की अपील की। संयुक्त व्यापार महासंघ अध्यक्ष दीपक हरिनारायण अग्रवाल(Deepak Harinarayan Agrawal), किराना व्यापार महासंघ व एफएमसीजी डिस्ट्रीब्यूटर्स एसोसिएशन अध्यक्ष गोविंद बांगड़ (govind Bangad), किराना व्यापार महासंघ कार्यकारी अध्यक्ष पंकज राठौर (Pankaj Rathore), संयुक्त व्यापार महासंघ युवा इकाई के सचिव अर्जुन भोला (Arjun Bhola), रेडीमेड एवं कपड़ा व्यापारी संघ के शशांक जैन (Shashank Jain) ने तहसीलदार तृप्ति पटेरिया (Tahsildar Tript Pateriya) को कलेक्टर के नाम ज्ञापन सौंपा और प्रशासन के लॉक डाउन के निर्णय पर असहमति जतायी।

ये रहे बैठक में मौजूद
बैठक में सभी संगठनों के व्यापारी प्रतिनिधि सराफा एसोसिएशन के अध्यक्ष यज्ञदत्त गौर (Yagdutt Gour), रेडीमेड कपड़ा एसोसिएशन के अध्यक्ष धर्मदास मिहानी, कन्हैया गुरयानी(Kanhaiya Guryani), एफएमसीजी के कैलाश नवलानी, प्रमेश सिंघवी, होटल हलवाई संघ के राजसिंह राजपूत, गोलू जैन, राहुल अग्रवाल, खाद बीज पेस्टीसाइड के आशीष चौधरी, लक्की अग्रवाल, इलेक्ट्रॉनिक गुड्स विक्रेता विकेश अग्रवाल, बेकरी एवं डेली नीड्स के रूपचंद जैन, मोनू चंदवानी किराना व्यापारी प्रेम खंडेलवाल सहित अनेक व्यापारी उपस्थित थे।

CATEGORIES

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: