BREAK NEWS

Video : आर्मी की सायकिल रैली : युवाओं से कहा आर्मी ज्वाइन करें

Video : आर्मी की सायकिल रैली : युवाओं से कहा आर्मी ज्वाइन करें

इटारसी। मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) के युवाओं में सेना के प्रति रुझान बढ़ाने के उद्देश्य को लेकर आज 102 इंजीनियरिंग रेजीमेंट (102 Engineering Regiment) के आर्मीमैन (Armyman) सायकिल रैली (Cycle Rally) लेकर इटारसी (Itarsi) पहुंचे। इटारसी में उनका कई जगह स्वागत किया गया। सबसे पहले एसडीएम, टीआई और तहसीलदार ने फोरलेन स्थित धौंखेड़ा चौराहे (Dhonkheda Crossroads) पर जाकर अगवानी की।
इटारसी-नर्मदापुरम रोड (Itarsi-Narmadapuram Road) पर खेड़ा स्थित रिसोर्ट के सामने युवाओं की टीम ने सायकिल रैली में शामिल आर्मी जवानों और अफसरों का स्वागत किया और उनको जलपान कराया। इसके बाद पुरानी इटारसी आजाद चौराहे पर भी सायकिल यात्रियों का स्वागत हुआ। मुख्य कार्यक्रम वर्धमान कॉलेज परिसर (Vardhman College Complex) में हुआ, जहां वर्धमान कॉलेज, वर्धमान स्कूल के स्टुडेंट और शासकीय एमजीएम कालेज (Government MGM College) के एनसीसी कैडेट्स (NCC Cadets) को आर्मी अफसरों ने संबोधित करके उनको सेना में भर्ती होने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने सेना में भर्ती के लिए सभी जरूरी बातें बतायीं। सेना क्या है, यह बताते हुए कहा कि केवल बंदूक हाथ में लेकर गोली चलाना सेना नहीं है, सेना देश की रक्षा, देशवासियों के लिए सेवा कार्य के अलावा भी बहुत काम करती है।
वर्धमान कालेज परिसर में हुए कार्यक्रम में कालेज के संचालक प्रशांत जैन, एसडीएम मदन सिंह रघुवंशी (SDM Madan Singh Raghuvanshi), टीआई रामस्नेह चौहान (TI Ramsneh Chauhan), तहसीलदार राजीव कहार, शासकीय एमजीएम कालेज की प्राचार्य राकेश मेहता व अन्य पुलिस अधिकारी उपस्थित रहे। यहां छात्र-छात्राओं और एनसीसी कैडेट्स को आर्मी से संबंधित एक लघु फिल्म भी दिखायी गयी।

ऐसा रहेगा रूट

भोपाल से 102 इंजीनियरिंग रेजीमेंट के आर्मी अधिकारी और जवान सायकिल रैली के माध्यम से इटारसी पहुंचे हैं। इटारसी में ठहराव है। कल सुबह ये लोग इटारसी से सोहागपुर होते हुए पिपरिया, पचमढ़ी, तामिया, छिंदवाड़ा, मुलताई, बैतूल होकर वापस इटारसी आएंगे और फिर यहां से भोपाल जाकर रैली का समापन होगा। आर्मी की इस सायकिल रैली का दस दिन का सफर लगभग 800 किलोमीटर का होगा।

ये कर रहे हैं कार्यक्रम

सेना की यह टीम जहां भी स्टे कर रही है, वहां स्कूल-कालेज, आईटीआई आदि में जाकर युवाओं को सेना में आने के लिए मोटीवेट कर रहे हैं। युवाओं को बताया जा रहा है कि आखिर फौज है, क्या? यहां भी आर्मी की इस टीम का स्वागत हुआ और सायकिल यात्रियों ने वर्धमान कालेज में अपने अनुभव साझा किये।

TAGS
Share This

AUTHORRohit

I am a Journalist who is working in Narmadanchal.com.

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus (0 )
error: Content is protected !!