सेल राउरकेला और डीएचए इटारसी फाइनल में

सेल राउरकेला और डीएचए इटारसी फाइनल में

  • – आज चैम्पियंस की तरह खेले इटारसी के खिलाड़ी
  • – सेल राउरकेला ने उत्तर रेलवे मुंबई को हराया

इटारसी। स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड राउरकेला उड़ीसा और डीएचए इटारसी के मध्य कल हॉकी का खिताबी मुकाबला होगा। फाइनल मुकाबले में पूर्व विधानसभा अध्यक्ष एवं वर्तमान विधायक डॉ.सीतासरन शर्मा मुख्य अतिथि रहेंगे। समापन समारोह में कलेक्टर सुश्री सोनिया मीणा, नगर पालिका परिषद इटारसी के अध्यक्ष पंकज चौरे और मप्र तैराकी संघ के अध्यक्ष पीयूष शर्मा अतिथि रहेंगे। आज खेले गये दोनों सेमीफाइनल मैच में इटारसी की हॉकी प्रेमी जनता का भरपूर मनोरंजन हुआ। चारों टीमें एकदूसरे को कड़ी टक्कर दे रही थीं। अंतत: फाइनल का टिकट सेल राउरकेला और डीएचए इटारसी को मिला।

नगर पालिका परिषद के तत्वावधान में डीएचए नर्मदापुरम इटारसी द्वारा करायी जा रही अखिल भारतीय महात्मा गांधी मेमोरियल हॉकी प्रतियोगिता का फाइनल मैच रविवार, 14 जनवरी को दोपहर 2 बजे से ऐतिहासिक गांधी मैदान पर खेला जाएगा। सेमीफाइनल मुकाबले आज पहला सेमीफाइनल मुकाबला स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड राउरकेला उड़ीसा की टीम और सेंट्रल रेलवे मुंबई की टीम के मध्य खेला गया। मैच प्रारंभ से ही बहुत तेज चला। गोल करने का पहला अवसर सेल की टीम को मिला जब अंकित ने गोल करके 1-0 से टीम को बढ़त दिलायी। अगले ही पल मुंबई के श्रीवास ने बराबरी का गोल कर दिया। सेल के खिलाड़ी सोनू ने दूसरा गोल करके मुकाबला 2-1 कर दिया। मुंबई रेलवे के निजाम ने गोल करके 2-2 से बराबरी कर ली। इसके बाद मुंबई ने दो और सेल राउरकेला ने चार गोल किये। अंतिम स्कोर 6-4 रहा और सेल की टीम फाइनल में पहुंचने वाली पहली टीम बनी।

दर्शकों को दूसरे मैच का बेसब्री से इंतजार रहा, जब उनको अपने शहर के खिलाडिय़ों का चैम्पियंस की तरह खेलना देखना था। इटारसी के लड़कों ने भी निराश नहीं किया और उन्होंने दर्शकों की चाहत के अनुरूप ही खेल दिखाया। पहला गोल मैच के छटवे मिनट में मो. जैद ने शानदार मैदानी गोल करके एफसीआई पुणे की टीम पर 1-0 की बढ़त बना ली। टूर्नामेंट में काफी मजबूत मानी जा रही एफसीआई की टीम आज पूरे रंग में नहीं दिखी, हालांकि टीम को कई शानदार अवसर मिले जिन्हें वे भुना नहीं सके। टीम ने करीब आधा दर्जन मौके गंवाए। इटारसी के गोल कीपर ने कई बेहतरीन गोलों का बचाव किया।

इटारसी टीम के शॉन गिडियन ने दूसरा गोल करके एफसीआई को संभलने का मौका ही नहीं दिया। पुणे की टीम ने अपना नेचुरल खेल दिखाया और तन्मय ने पहला गोल करके बढ़त को कम किया। तीसरे क्वार्टर में इटारसी के लड़कों ने अच्छा प्रदर्शन किया और मो. जैन के बेहतरीन पास को शॉन ने गोल में बदलकर बढ़त 3-1 कर ली। अंतत: निर्धारित समय तक पुणे वापसी नहीं कर सकी और इटारसी ने यह मैच जीतकर वर्षों बाद फाइनल में प्रवेश किया। आज पूरा स्टेडियम दर्शकों से खचाखच भरा हुआ था।

CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

error: Content is protected !!