Update : सेमरी के प्रशांत पटेल हत्याकांड में दो गिरफ्तार

Update : सेमरी के प्रशांत पटेल हत्याकांड में दो गिरफ्तार

इटारसी। ग्राम सेमरी (Village Semri) निवासी किसान बसंत उर्फ जुग्गू पटेल (Basant Juggu Patel) के बेटे प्रशांत पटेल (Prashant Patel) की हत्या मामले में डोलरिया पुलिस (Dolariya Police) ने दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। दोनों को न्यायालय में पेश किया जा रहा है। डोलरिया थाना प्रभारी नागेश वर्मा station in-charge Nagesh Verma()ने बताया कि दो आरोपियों मयंक तिवारी (Mayank Tiwari) और चेतन पाठक (Chetan Pathak) को गिरफ्तार किया है, दोनों आपस में मामा भांजे हैं। मामला विदिशा ( Vidisha) की किसी संपत्ति को लेकर हुए विवाद का बताया जा रहा है। फिलहाल जांच के बाद स्थिति स्पष्ट हो सकेगी।

उल्लेखनीय है कि ग्राम सेमरी के युवक प्रशांत पटेल 45 वर्ष का शव उनके ही खेत में बीती रात गड़ा मिला था। सूचना के बाद ग्रामीणों में आक्रोश बढ़ा और लोगों ने डोलरिया थाना का घेराव कर दिया था। सुरक्षा की दृष्टि से जिला मुख्यालय से एसपी डॉ. गुरुकरण सिंह और एडिशनल एसपी अवधेश प्रताप सिंह सहित जिले के विभिन्न थानों से पुलिस के आला अफसर भी मौके पर पहुंच गये थे। ग्रामीण आरोपियों के घर पर बुलडोजर चलाने की मांग कर रहे थे। किसी तरह से ग्रामीणों को समझाकर शांत किया गया। बता दें कि युवक प्रशांत पटेल विगत 21 जून से लापता था।

संदेह में पुलिस ने कुछ लोगों को उठाकर पूछताछ की तो पता चला कि उसकी हत्या करके शव खेत में गाड़ दिया था। गुरुवार रात को उसी के खेत में प्रशंात का शव गड्ढा खोदकर निकाला गया। घटना के बाद ग्रामीणों में आक्रोश फैल गया। सूचना मिलते ही डोलरिया थाना प्रभारी नागेश वर्मा और पुलिस के बड़े अधिकारी घटनास्थल पर पहुंचे। घटना को लेकर लोगों में आक्रोश है। हत्या में शामिल गांव के संदेही युवक के घर पर कुछ लोगों ने तोडफ़ोड़ भी कर दी। वहीं उसके मकान को तोडऩे की मांग को लेकर डोलरिया थाने का ग्रामीणों ने घेराव कर दिया था।

जानकारी के मुताबिक मृतक प्रशांत पिता बसंत पटेल 45 वर्ष निवासी ग्राम सेमरीखुर्द 21 जून से लापता था। मृतक के चचेरे भाई अनिकेत के अनुसार 22 जून को उनकी गुमशुदगी दर्ज कराईं थी। नर्मदापुरम, भोपाल, इंदौर सहित कई शहरों में उनकी तलाश की गई। लेकिन कुछ पता नहीं चला। गुरुवार रात को गांव के एक युवक और विदिशा के एक व्यक्ति, जिनका प्रशांत पटेल के साथ बैठना उठना था। उनसे पुलिस ने पूछताछ की। जिसमें खेत में गड्ढे में गाडऩे की बात सामने आई। रात 10 बजे खेत में पहुंचकर उस जगह का गड्ढा खोदा गया जहां सब दफन मिला।

CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: