शुक्रवार, जून 21, 2024

LATEST NEWS

Train Info

शिव (Shiv) की पूजा और साधना कृपा बरसाने वाली होती है

श्री दुर्गा नवग्रह मंदिर (Shri Durga Navgrih Mandir) में चल रहा पार्थिव शिवलिंग पूजन एवं अभिषेक
इटारसी। श्री दुर्गा नवग्रह मंदिर (Shri Durga Navgrih Mandir) में सावन (Sawan) मास के पहले दिन से भगवान शिव (Shiv) को प्रसन्न करने के लिए उनके पार्थिव स्वरूप का पूजन एवं अभिषेक निंरतर किया जा रहा है।
इस अनुष्ठान को मुख्य आचार्य पं. विनोद दुबे (Pt.Vinod Dubey) के नेतृत्व में आचार्य सत्येन्द्र पांडे एवं पीयूष पांडे (Piyush Pandey) सफलतापूर्वक कर रहे हंै। प्रतिदिन सीमित संख्या में भक्त मंदिर में पहुंच रहे हैं। भगवान शिव का पूजन एवं अभिषेक किया जा रहा है, उनका पंचामृत स्नान कराया जा रहा है। श्मशान की माटी से पार्थिव स्वरूप का प्रतिदिन निर्माण होता है एवं अरब सागर और सात पवित्र नदियों के जल से भगवान का प्रतिदिन अभिषेक कराया जाता है।
मुख्य आचार्य पं. विनोद दुबे ने भगवान शिव की महिमा का बखान करते हुए बताया कि भगवान शिव की पूजा और साधना कृपा बरसाने वाली होती है। उन्होंने कहा कि नर्मदा का हर कंकर शंकर बन जाता है और घर-घर में पूजा जाता है। भगवान शिव कैलाशवासी है किंतु हमारे प्रदेश पर उनकी बड़ी कृपा है। उज्जैन मे महाकाल(Mahakaal) के रूप में और ओंकारेश्वर में ममलेश्वर (Mamleshwar) के रूप में ज्योर्तिलिंग (Jyotirling) स्थापित हैं और प्रतिदिन हजारों भक्त इन दोनों ज्योर्तिलिंगों के दर्शन करने जाते है। देशभर के 12 ज्योर्तिलिंगों के पार्थिव शरीर का पूजन एवं अभिषेक 20 जुलाई से प्रारंभ होगा तब तक प्रतिदिन भगवान शिव के काल्पनिक स्वरूप का प्रतिदिन पूजन एवं अभिषेक कराया जा रहा है। उन्होंने कहा कि शिव पूजन से सभी कष्ट दूर होते है। पूजन एवं अभिषेक के पश्चात प्रसाद वितरण किया।

Rashtra Bharti

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

MP Tourism

error: Content is protected !!