Breaking News

डेढ़ दर्जन जोड़ों ने मंच से निकाह कबूल किया

डेढ़ दर्जन जोड़ों ने मंच से निकाह कबूल किया

इटारसी। अमन मुस्लिम वेलफेयर सोसायटी की जानिब से आज यहां गांधी स्टेडियम में नि:शुल्क इज्तिमायी शादी में 18 जोड़ों ने निकाह कबूल किया। कार्यक्रम में मप्र विधानसभा के अध्यक्ष डॉ.सीतासरन शर्मा ने जोड़ों को मुख्यमंत्री निकाह योजना के तहत मिलने वाली सामग्री भेंट की और नवविवाहित जोड़ों को सुखी दाम्पत्य जीवन का आशीर्वाद दिया। कार्यक्रम में अल्पसंख्यक मोर्चा मप्र के मुजीब कुरैशी, विधायक प्रतिनिधि कल्पेश अग्रवाल, जिला पत्रकार संघ अध्यक्ष प्रमोद पगारे, सांसद प्रतिनिधि राजा तिवारी, पार्षद संजय चौधरी, अनवर अली, बलवीर सिंह बैस, सोसायटी के सदर मुस्ताक अहमद, शेख जफर सहित मुस्लिम वेलफेयर सोसायटी के अनेक सदस्य, वर-वधुओं के परिजन उपस्थित थे। इस दौरान सीएमओ अक्षत बुंदेला ने भी पहुंचकर वर-वधुओं को शासन की ओर से मिली सामग्री भेंट की। इससे पहले शांति भवन से 18 दूल्हों की बारात निकाली जो स्टेशन रोड, जयस्तंभ चौक के रास्ते, तुलसी चौक होते हुए गांधी मैदान पहुंची।
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए डॉ. शर्मा ने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जब मुख्यमंत्री विवाह योजना बनायी तो मुख्यमंत्री निकाह योजना भी बनायी। दोनों योजना एक जैसी हैं, जरा भी फर्क नहीं है। हमारा नारा भी यही है, सबका साथ, सबका विकास। ऐसे ही जब तीर्थदर्शन योजना बनायी तो उसमें भी एक जैसे नियम लागू किए और अजमेर शरीफ को भी इस योजना में जोड़ा है। हमारी दोनों समुदाय को साथ लेकर चलने की नीति है। देश में मुस्लिम और हिन्दू दोनों चके साथ चलते हैं तभी देश की गाड़ी आगे बढ़ती है। उन्होंने आयोजनकर्ताओं को बधाई दी। जिला पत्रकार संघ अध्यक्ष प्रमोद पगारे ने कहा कि पहले मुस्लिम समाज की बच्चियों की शादी में काफी परेशानी आती थी, आज मुख्यमंत्री की योजना के बाद पूरे प्रदेश में निकाह के आयोजन होने लगे हैं।

अजमेर ट्रेन को इटारसी तक लाने की मांग
कार्यक्रम में अमन मुस्लिम वेलफेयर सोसायटी की तरफ से विधानसभा अध्यक्ष डॉ. सीतासरन शर्मा को एक ज्ञापन सौंपकर भोपाल-अजमेर ट्रेन को इटारसी तक लाने की मांग की गई है ताकि जिले सहित आसपास के जिले के लोग भी उसका लाभ ले सकें। डॉ. शर्मा ने आश्वस्त किया कि वे रेल मंत्री, रेलवे बोर्ड और सांसद से भी इस विषय में चर्चा करके ट्रेन को इटारसी तक बढ़ाने का अनुरोध किया जाएगा। उन्होंने आश्वस्त किया कि यह मांग जल्द पूर्ण हो जाएगी।

error: Content is protected !!