अपहरण से खुली अवैध शराब की तस्करी की गुत्थी

हरदा। हंडिया थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम कचबेड़ी निवासी अज्जू बाई पति राधेश्याम नाई ने 28 मार्च 2018 को हंडिया थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई कि मेरे पति राधेश्याम को शेखर विश्नोई राजू मातबा नीलेश सोनी शरद विश्नोई काया गांव एवं उनके अन्य साथी द्वारा दोपहिया बाद चार पहिया वाहन से घर पर आकर मारपीट कर गाड़ी में पटक कर ले गए मेरे द्वारा विरोध करने पर सभी आरोपियों द्वारा मेरे साथ भी मारपीट की गई जिस पर अज्जू बाई की रिपोर्ट पर पुलिस द्वारा धारा 364 भाग 34 आईपीसी के तहत मामला कायम कर राधेश्याम की तलाश में पुलिस की टीम टीआई जेयू सिद्दीकी के साथ कचबेडी पहुंची जहां पूरे मामला अवैध शराब से की तस्करी से जुड़ा होना पाया गया जांच में सामने आया कि आरोपी राधेश्याम को मरणासन्न अवस्था में किल्लोद थाने में पटक कर भाग गए संपूर्ण घटना की जानकारी से टी आई सिद्धकी द्वारा पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार सिंह एडिशनल SP हेमलता कुरील एसडीओपी महेंद्र मालवीय को अवगत कराया गया जिस पर पुलिस अधीक्षक के मार्गदर्शन में राधेश्याम की तलाशी पर शुरू की गई जहां किल्लोद में थाने से राधेश्याम हंडिया लाया गया उसका मेडिकल कराया गया उसके शरीर में काफी चोट के निशान पाए गए राधेश्याम ने बताया कि वह शेखर बिश्नोई राजू मातबा नीलेश सोनी व शरद विश्नोई के साथ काफी लंबे समय से हरदा जिले में अवैध शराब के धंधे में संलग्न है दूसरे जिले से शराब लाकर बेचते हैं गुरुवार को यह पांचों लोग शराब लेने के लिए पुनासा गए थे जहां उन्होंने नागेंद्र और टाइगर से 40 पेटी शराब ली थी और यह पांचों लोग वहां से वीजा पैसे चुकाए टाइगर को झांसा देकर शराब की पेटी लेकर भागने में सफल रहे
जहां से राधेश्याम द्वारा शराब की पेटियां जाड़ू बिश्नोई के घर के बाहर भूसे के ढेर में छिपाकर रखी गई इस सूचना पर पुलिस ने तस्दीक कर जाड़ू के घर शनिवार की रात छापामार कार्यवाही कर भूसे के ढेर में रखी अवैध शराब की 20 बेटियां बरामद की अवैध शराब की खरीद-फरोख्त क्रय विक्रय का अपराध घटित पाए जाने पर आरोपी राधेश्याम बा जादु पर धारा 34 । 2 के तहत मामला पंजीकृत किया गया वहीं राधेश्याम नाई के साथ मारपीट अपहरण के मामले में नागेंद्र और टाइगर रवि शिंदे एवं अन्य आरोपियों पर मामला दर्ज किया गया है टी आई सिद्दीकी ने बताया कि 20 पेटी शराब की ज़ब्त हुई है राधेश्याम की बताए अनुसार अभी 20 बेटियां नहीं मिल पाई है जिसकी तलाश जारी है वही मामले में सभी आरोपी फरार हैं जिनको जल्द से जल्द गिरफ्तार किया जाएगा वहीं इस अवैध शराब से जुड़े समूचे मामले में पुलिस को बड़े गिरोह का पर्दाफाश किया जाना है जिससे कि एक जिले से दूसरे जिले में चल रहे अवैध शराब के कारोबार पर अंकुश लगाया जा सके।

CATEGORIES
Share This
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: