गुरूवार, मई 30, 2024

LATEST NEWS

Related Posts

गूजरखेड़ी में गरीब बेटी की शादी में समाज के योगदान को सीएम ने सराहा

इटारसी। जनभागीदारी से हम क्रांति ला सकते हैं, सकारात्मक और रचनात्मक काम का हमेशा स्वागत किया जाना चाहिए। यह बात मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कही। आज एक ट्वीट कर श्री चौहान ने नर्मदापुरम के गुजरखेड़ी गांव में गरीब बच्ची दीपा की शादी में समाज के योगदान पर अपने संदेश में यह बात कही है।

श्री चौहान ने कहा कि गूजरखेड़ी गांव के युवाओं ने समाज के सामने एक अनुकरणीय उदाहरण प्रस्तुत किया है। गांव के नौजवानों ने आर्थिक रूप से कमजोर बहन दीपा की धूमधाम से शादी कराई जिसमें स्थानीय प्रशासन, पुलिस व समाजसेवियों ने भी खुले दिल से मदद की है।

उन्होंने कहा कि नौजवानों ने एक सोशल मीडिया ग्रुप बनाया और हाथ आगे बढ़ाये तो पौने दो लाख रुपए आ गये। स्थानीय प्रशासन, पुलिस और समाजसेवियों ने मदद की। जनता ठान ले तो बड़े से बड़े काम हो जाते हैं। जनभागीदारी से हम समाज में क्रांति ला सकते हैं। गूजरखेड़ी में आर्थिक रूप से कमजोर दीपा की शादी इसका उदाहरण है। दीपा के पिता का कुछ समय पहले देहांत हो गया था, घर की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं थी, गूजरखेड़ी गांव ने अनुकरणीय उदाहरण प्रस्तुत किया है।

उल्लेखनीय है कि दो दिन पूर्व ही एक गरीब बेटी दीपा का विवाह सभी ने जनभागीदारी के साथ धूमधाम से कराया है। पिता और दादा का कोरोना के दौरान निधन से उनकी कमी समाजसेवी और ग्रामीणों ने सहयोगी बनकर की है। खास बात यह है कि दीपा के विवाह में सभी ने मिलकर ऐसा सहयोग किया है। जिससे बेटी को परिजनों की कमी महसूस नहीं होने दी। गांव के लेागों ने विवाह में होने वाले खर्च उठाने से लेकर बेटी के लिए आभूषण, अनक घरेलू सामग्री भी उपहार में प्रदान की है।

गांव के लेागों ने बताया कि दीपा विश्वकर्मा के पिता कमलेश विश्वकर्मा और दादाजी का निधन कोरोना के दौरान हो गया है। पिता पेशे से कारीगरी का कार्य करते थे। ग्रामीणों की पहल पर दीपा विश्वकर्मा का विवाह अमित विश्वकर्मा निवासी ग्राम कुंडाली के साथ होना तय हुआ। दीपा की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होने से गांव के युवाओं और समाजसेवियों ने तय किया कि अब वे ही उसके परिजन हैं। दीपा हमारे गांव की बेटी है उसका विवाह धूमधाम से किया जाएगा। ग्रामीणों ने सहयोगी बनकर सोशल मीडिया ग्रुप बनाया। करीब पौने 2 लाख रुपए लोगों ने दान दिया और दीपा का विवाह पूरे उत्साह के साथ हुआ। इस विवाह में प्रशासन, पुलिस और समाजसेवियों ने भी खुले दिल से मदद की।

बताया गया कि अमित बिल्लोरे, शरद दुबे शोभापुर, जकी अंसारी शोभापुर, अब्दुल हक़ उर्फ़ भाया सोहागपुर थाना सोहागपुर से एसआई धर्मेन्द्र वर्मा, एसआई मेघा उदेनिया, प्रधान आरक्षक राजाराम, प्रकाश सिंह चौहान, एसआई वर्षा धाकड़ द्वारा दीपा को घरेलू सामग्री प्रदान की गई। फ्रिज, कूलर, सोने, चांदी जेवर व साड़ी के साथ श्रृंगार सामग्री भी उपलब्ध कराई गई। जब इस बात की जानकारी मुख्यमंत्री को मिली तो उन्होंने भी इस सकारात्मक पहल की सराहना की है।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

TECHNOLOGY

error: Content is protected !!