राष्ट्रकवि सुब्रह्मण्यम भारती की जयंती पर हुआ भारतीय भाषा उत्सव

राष्ट्रकवि सुब्रह्मण्यम भारती की जयंती पर हुआ भारतीय भाषा उत्सव

  • – सरस्वती विद्या मंदिर मालवीयगंज में आयोजित हुआ कार्यक्रम

इटारसी। सरस्वती विद्या मंदिर मालवीयगंज (Saraswati Vidya Mandir Malviyaganj) में राष्ट्र कवि सुब्रह्मण्यम भारती (National Poet Subramaniam Bharti) की जयंती भारतीय भाषा उत्सव के रूप में मनाई। इस अवसर पर कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि श्रीमती संजना बैस (Mrs. Sanjana Bais), हिन्दी व्याख्याता एकलव्य स्कूल (Eklavya School) ने अधिवक्ता आशीष कुमार मालवीय (Ashish Kumar Malviya) की अध्यक्षता में दीप प्रज्वलन से किया। सम्मानित अतिथियों का परिचय योगेश शुक्ल (Yogesh Shukla) द्वारा एवं स्वागत सत्कार श्रीमती लता पटैल द्वारा किया गया।

इस अवसर पर शारीरिक प्रमुख महेश उपराले (Mahesh Uprale) के मार्गदर्शन में विद्यार्थियों ने सामूहिक योग-पिरामिड का प्रदर्शन किया। कार्यक्रम की भूमिका बृजमोहन सिंह सोलंकी ( Brijmohan Singh Solanki) ने रखी। तत्पश्चात विद्यार्थियों ने सामूहिक नृत्य भाषणों आदि की प्रस्तुति दी। मुख्य वक्ता श्रीमती संजना बैस ने श्री भारती के जीवन से जुड़ी अनेक घटनाओं का उल्लेख करते हुए प्रत्येक भाषा के प्रति सम्मान का भाव रखते हुए अपनी राष्ट्र भाषा को समृद्ध बनाने का आह्वान किया।

अध्यक्षीय भाषण में अधिवक्ता आशीष कुमार मालवीय ने हिन्दी भाषा की वैज्ञानिकता पर अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि श्री सुब्रमण्यम भारती ने तमिल भाषी होने के बाद भी हिन्दी भाषा की महत्वता पर कार्य किया। अंत में सभी आगन्तुकों का आभार पीआरओ सुनील सोनी ने व्यक्त किया है। संचालन कुमारी मंजु कीर ने किया।

CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

error: Content is protected !!