समय से कार्य पूरा नहीं करने पर गणेश कंस्ट्रक्शन मुरैना पर एफआईआर के निर्देश

समय से कार्य पूरा नहीं करने पर गणेश कंस्ट्रक्शन मुरैना पर एफआईआर के निर्देश

नर्मदापुरम। कलेक्टर नीरज कुमार सिंह (Collector Neeraj Kumar Singh) ने गुरुवार सुबह सोहागपुर पहुंचकर यहां विभिन्न ग्रामों में जल जीवन मिशन के तहत नवीन नल जल योजना और रेट्रोफिटिंग कार्यों का औचक निरीक्षण किया। उन्होंने यहां ग्रामीणों से चर्चा कर नल जल योजनाओं के कार्यों की जानकारी भी ली।

सबसे पहले कलेक्टर ने ग्राम सेमरी की नल जल योजनाओं की गुणवत्ता का अवलोकन किया। कलेक्टर श्री सिंह ने यहां भ्रमण कर रहवासी रजनीकांत सोनी से घरेलू नल कनेक्शन से पानी मिल रहा है या नहीं इसकी जानकारी ली। श्री सोनी ने बताया कि अभी पुरानी नल जल योजना के तहत घर में पानी आ रहा हैं। नई पाइप लाइन से नही।

कलेक्टर श्री सिंह ने ग्राम सेमरी, जमुनिया और गुर्जरखेड़ी के कांट्रेक्टर मेसर्स राज कंस्ट्रक्शन एंड इंजीनियर सॉल्यूशन सुपरवाइजर को सख्त निर्देश दिए कि तीनों ग्रामों में अगले 3 माह में कार्य पूर्ण किया जाना सुनिश्चित कराएं। कार्य में मानक गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखें।

उन्होंने कहा कि पाइप लाइन डालने के लिए खोदी गई सड़कों के रेस्टोरेशन का कार्य भी शीघ्र पूर्ण करें। कलेक्टर ने दूरस्थ ग्राम पाठई, मगरिया, कामतीरंगपुर, पथरई, परसवाड़ा आदि ग्राम का दौरा कर नल जल योजनाओं के कार्यों को देखा। उन्होंने ग्राम पाठई में ग्रामीण शिवचरण से चर्चा कर नल कलेक्शन से पानी मिल रहा है या नहीं इसकी जानकारी।

शिवचरण ने बताया कि काफी समय से सिर्फ पाइपलाइन डाली गई लेकिन पानी अभी तक प्राप्त नहीं हुआ। पाइपलाइन डालने के बाद सड़क मरम्मत का कार्य भी नहीं किया गया हैं। जिस पर कलेक्टर ने सख्त नाराजी व्यक्त करते हुए पाठई सहित अन्य 6 ग्रामों में साल भर से ज्यादा समय से कार्य पूर्ण ना करने पर गणेश कंस्ट्रक्शन मुरैना के विरुद्ध एफ आई आर कराने के निर्देश कार्यपालन यंत्री लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग को दिए।

निरीक्षण के दौरान ग्राम पथरई के ग्रामीणों ने बताया कि ग्राम में मात्र 1 बोर होने के कारण पानी की समस्या का सामना करना पड़ रहा है। जिस पर कलेक्टर श्री सिंह ने ई पीएचई को ग्राम में 2 बोर करवाने के निर्देश दिए। कलेक्टर श्री सिंह ने निरीक्षण के पश्चात कार्यपालन यंत्री पीएचई को निर्देशित किया कि जिले में स्वीकृत ग्रामों की नल योजनाओं के कार्य निर्धारित समय अंतराल में पूर्ण किया जाना सुनिश्चित कराएं।

गुणवत्ता विहीन और समय पर कार्य पूर्ण नही करने वाले ठेकेदारों के विरुद्ध टर्मिनेट करने की कार्रवाई भी की जाए। कलेक्टर श्री सिंह ने जिले में नल जल योजनाओं का कार्य कर रहे सभी ठेकेदारों एवं लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग (Public Health Engineering Department) के अमले की संयुक्त बैठक आयोजित करने के भी निर्देश दिए।

निरीक्षण के दौरान कार्यपालन यंत्री पीएच एस के गुप्ता, एसडीएम सोहागपुर अखिल राठौर, तहसीलदार श्रीमती अलका एक्का सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

CATEGORIES
TAGS
Share This

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus (0 )
error: Content is protected !!