मावठा बरसा, ठंडक बढ़ी, अभी किसानों को ज्यादा राहत नहीं

मावठा बरसा, ठंडक बढ़ी, अभी किसानों को ज्यादा राहत नहीं

इटारसी। रविवार को सारा दिन आसमान पर छाए बादल सोमवार को रात करीब ढाई बजे से बरस गये। माठवा पहली बार बरसा और इससे न सिर्फ मौसम में ठंडक घुल गई। मावठा फसलों के लिए अमृत समान होता है, लेकिन फिलहाल किसानों को बहुत ज्यादा फायदा होने की उम्मीद नहीं है, क्योंकि इस क्षेत्र में ज्यादातर बोवनी नहीं हुई है, जो थोड़ी बोवनी हुई है, उनको फायदा है जो जहां चना की बोवनी हो गयी वहां यह मावठा अमृत का काम करेगा। इस दौरान जिले की हर तहसील में वर्षा दर्ज की गई है।

सोमवार की सुबह मौसम में ठंडक लेकर आई। रविवार से बना बारिश का माहौल सोमवार सुबह लगभग ढाई बजे से बूंदें लेकर आया। वे किसान (Farmer) मावठा की बारिश का बेसब्री से इंतजार कर रहे थे, जिनकी बोवनी हो गयी है, उनको इस बारिश से किसानों को बड़ी राहत मिली है, लेकिन जिनकी बोवनी नहीं हुई है, उनकी बोवनी अब लेट हो जाएगी। किसानों के मुताबिक यदि लगातार ऐसा मौसम (Weather) बना रहा तो बोवनी करीब पंद्रह दिन लेट होगी। जिलेभर में बारिश के छींटे पड़े। इस दौरान सबसे अधिक बारिश 10.2 मिमी नर्मदापुरम (Narmadapuram) तहसील में हुई है। जबकि सिवनी मालवा (Seoni Malwa) तहसील में सबसे कम 2 मिमी बारिश हुई। मौसम विभाग (Meteorological Department) के मुताबिक अभी आगामी 2-3 दिनों में ऐसा ही मौसम रहने अच्छी ठंड पडऩे के आसार हैं।

थोड़ा जल्दी बरस गया मावठा

उन्नत कृषक हेमंत दुबे (Hemant Dubey) के मुताबिक नवंबर में मावठा बरसना किसानों की उम्मीद के वितरीत है। यह जल्दी हो गया है। अमूमन किसान धान से ही 10 दिसंबर के आसपास फ्री होता है। अभी कई जगह बोवनी नहीं हुई है, ऐसे में बारिश बोवनी को और लेट करेगी। जहां थोड़ी बहुत बोवनी हो गयी है, वहां थोड़ा फायदा हो सकता है। जहां चने की बोवनी हो गई, यह मावठा अमृत का काम करेगा।

जिले में वर्षा

  • नर्मदापुरम – 10.2 मिमी
  • इटारसी – 6.2
  • सोहागपुर – 03 मिमी
  • सिवनी मालवा – 02 मिमी
  • डोलरिया – 06 मिमी
  • माखननगर – 04 मिमी
  • बनखेड़ी – 2.8 मिमी
  • पिपरिया – 3.6 मिमी
  • पचमढ़ी – 2.4 मिमी

तापमान

  • नर्मदापुरम – 17.2
  • पचमढ़ी – 09.8
  • बैतूल – 14.2
  • इटारसी – 17

मध्यप्रदेश के जिलों में वर्षा

  • खरगोन 84.4
  • इंदौर 50.8
  • धार 50.1
  • रतलाम 47.0
  • खंडवा 45.0
  • उज्जैन 31.0
  • नर्मदापुरम 10.2
  • बैतूल 8.2
  • भोपाल 6.0
  • पचमढ़ी 2.4
  • रायसेन 1.8
  • गुना 1.0
  • ग्वालियर 0.6
  • छिंदवाड़ा 0.6
CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

error: Content is protected !!