शरद पूर्णिमा पर चंद्र ग्रहण का साया, नहीं मने उत्सव, बंद रहे मंदिरों के पट

शरद पूर्णिमा पर चंद्र ग्रहण का साया, नहीं मने उत्सव, बंद रहे मंदिरों के पट

इटारसी। बरसों बाद ऐसा अवसर आया है जब शरद पूर्णिमा उत्सव पर चंद्र ग्रहण का साया मंडराता रहा । चंद्र ग्रहण के कारण शरद उत्सव कार्यक्रम आयोजित नहीं किए गए ,मंदिरों के पट बंद रहे ।

शहर के सभी मंदिरों में शाम 4:00 बजे पट बंद कर दिए गए थे। द्वारकाधीश मंदिर, राम जानकी मंदिर, दुर्गा मंदिर दुर्गा चौक ,बूढ़ी माता मंदिर, सोना सांवरी स्थित काली मंदिर, देवल मंदिर ,राम जानकी मंदिर पुरानी इटारसी, राम जानकी मंदिर पहली लाइन ,हनुमान धाम स्थित हनुमान धाम मंदिर सहित शहर के सभी मंदिरों में पट बंद कर दिए गए। इसी तरह शहर भर में जो शरद पूर्णिमा पर जो उत्सव मनाया जाता था हर मंदिरों मेंभगवान को रात्रि में खीर का भोग लगाकर उसका वितरण किया जाता था ,वह नहीं हुआ।

सभी दुर्गा उत्सव पंडालों पर खीर और भजिए बनते थे जो भगवान को भोग लगाने के उपरांत श्रद्धालुओं को वितरित होते थे, लेकिन यह सब कुछ इस बार नहीं हुआ। चंद्र ग्रहण का असर बाजार पर भी दिखा बाजार में शाम 4:00 बजे के बाद चहल-पहल अपेक्षाकृत काफी कम हो गई थी जल्दी पूरे बाजार में सन्नाटा छा गया था।

CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

error: Content is protected !!