शासकीय कन्या महाविद्यालय में युवा दिवस पर किया सूर्य नमस्कार एवं प्राणायाम

शासकीय कन्या महाविद्यालय में युवा दिवस पर किया सूर्य नमस्कार एवं प्राणायाम

इटारसी। शासकीय कन्या महाविद्यालय में स्वामी विवेकानंद के जन्मदिवस 12 जनवरी 2024 को युवा दिवस के रूप में मनाया गया। इस अवसर पर पतंजलि योग समिति नर्मदा पुरम के योगाचार्य जितेंद्र सिंह राजपूत तथा योगाचार्य रमेश जगदेव के निर्देशन में महाविद्यालय के प्राध्यापकों, कार्यालयीन कर्मचारियों एवं छात्राओं ने सामूहिक सूर्य नमस्कार एवं प्राणायाम किया। इसके पूर्व प्राध्यापको एवं छात्राओं ने राष्ट्रीय गीत, वंदे मातरम तथा मध्य प्रदेश गान का सामूहिक गायन किया ।

इस अवसर पर महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ. आरएस मेहरा ने कहा कि स्वामी विवेकानंद का दर्शन वह कुंजी है जिसके सहारे भारत विश्व गुरु बन सकता है। भारत की गरिमा को वैश्विक स्तर पर सम्मान के साथ बरकरार रखने के लिए स्वामी विवेकानंद जी के कई उदाहरण इतिहास में मिलते हैं। स्वामी विवेकानंद युवाओं के शाश्वत मार्गदर्शक एवं प्रेरणा स्रोत है। डॉ. शिरीष परसाई ने कहा कि भारत के गौरव को विश्व में उज्ज्वल करने वाले, प्रत्येक भारतीय के प्रेरणा स्रोत स्वामी विवेकानंद जी ने पूरे विश्व को भारतीय संस्कृति के मूल्यों से समृद्ध किया और अपने प्रेरक विचारों से युवाओं में राष्ट्र निर्माण के लिए एक नई चेतना का संचार किया।

योगाचार्य जितेंद्र सिंह राजपूत ने कहा कि हमें स्वयं की शक्ति पर विश्वास रख कार्य करना चाहिए, तब ही कार्य सिद्ध किया जा सकता है। महाविद्यालय के प्राध्यापकों एवं छात्राओं ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का उद्बोधन भी सुना। कार्यक्रम में डॉ. हरप्रीत रंधावा, मंजरी अवस्थी, रविंद्र चौरसिया, डॉ. शिरीष परसाई, डॉ. हर्षा शर्मा, डॉ मुकेश चंद्र बिष्ट, पूनम साहू, डॉ. श्रद्धा जैन, डॉ शिखा गुप्ता, हेमंत गोहिया, क्षमा वर्मा, श्रीमती शोभा मीणा करिश्मा कश्यप, राजेश कुशवाहा तथा छात्राएं उपस्थित थीं।

CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

error: Content is protected !!