BREAK NEWS

‘तवा महोत्सव’ मनाकर मूंग फसल के लिए नहर में छोड़ा पानी

‘तवा महोत्सव’ मनाकर मूंग फसल के लिए नहर में छोड़ा पानी

– कृषि मंत्री पटेल और जल संसाधन मंत्री सिलावट कार्यक्रम में हुए शामिल

इटारसी। तवा नगर (Tawa Nagar) में आज बुधवार को जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट एवं कृषि मंत्री कमल पटेल ने हरदा (Harda) एवं नर्मदापुरम जिलों के किसानों की ग्रीष्मकालीन मूंग फसल की सिंचाई के लिए तवा बायीं तट नहर से पानी छोड़ा। इस अवसर को तवा महोत्सव के रूप में मनाया।कायक्रम में नर्मदापुरम (Narmadapuram) विधायक डॉ. सीतासरन शर्मा (Dr. Sitasaran Sharma), सोहागपुर विधायक विजय पाल सिंह (Vijay Pal Singh), सिवनी मालवा विधायक प्रेमशंकर वर्मा (Premshankar Verma), टिमरनी विधायक संजय शाह (Sanjay Shah) एवं जिला भाजपा अध्यक्ष हरदा अमर सिंह मीणा, संतोष पारिख भी मौजूद थे। इस दौरान रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम हुए। जल संसाधन मंत्री श्री सिलावट एवं कृषि मंत्री श्री पटेल ने कार्यक्रम से पूर्व विधि विधान से पूजन कर किसानों की उपस्थिति में तवा बांध से पानी छोड़ा।
जल संसाधन मंत्री श्री तुलसी सिलावट ने संबोधित करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chouhan) के नेतृत्व में प्रदेश का चहुंमुखी विकास हो रहा है। श्री चौहान ने प्रदेश के 65 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में सिंचाई सुविधा उपलब्ध कराने लक्ष्य रखा है, इसे शीघ्र ही पूरा किया जाएगा। श्री सिलावट ने कहा कि मप्र कृषि प्रधान प्रदेश है। यहो की अर्थव्यवस्था कृषि आधारित है। किसानों का प्रदेश की अर्थव्यवस्था में महत्वपूर्ण योगदान है। उन्होंने उपस्थित नागरिकों को विश्व जल दिवस, रंगपंचमी व होली की शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि नर्मदा क्षिप्रा लिंक परियोजना की तरह अब केन-बेतवा लिंक सिंचाई परियोजना को मूर्त रूप दिया जा रहा है। इसकी लागत 44605 करोड़ रुपए है, योजना से कुल 8.11 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में सिंचाई होगी। हरदा एवं नर्मदापुरम जिले के कुल 80 हजार हेक्टेयर क्षेत्र में तवा नहर से मूंग की फसल में सिंचाई की जाएगी।


कृषि मंत्री कमल पटेल ने कहा कि कोरोना काल में मूंग की फसल के लिए तवा नहर से पानी छोडऩे से किसानों को करोड़ों रुपए का लाभ हुआ था। उन्होंने कहा कि कोरोना काल में जब पूरे देश में लोक डाउन था, ऐसे में तवा नहर से पानी मिलने से किसानों को खेतों में काम करने का अवसर मिला साथ ही मजदूरों को भी खेतों में रोजगार मिला। कृषि मंत्री श्री पटेल ने कहा प्रदेश सरकार ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में खेती को लाभ का धंधा बनाने का जो संकल्प लिया है, उस दिशा में सरकार नित नए काम कर रही है। खेती की लागत को घटाया है तथा फसल का किसान को अच्छा मूल्य दिलाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि चना, मूंग एवं गेहूं का समर्थन मूल्य बढऩे से बाजार में इन फसलों के मूल्य में वृद्धि हुई है, जिससे किसानों को बहुत आर्थिक लाभ हुआ है। कृषि मंत्री श्री पटेल ने इस अवसर पर कहा कि उन्होंने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से अनुरोध कर के तवा नहर की लाइनिंग के लिए 800 करोड़ रुपए स्वीकृत कराए हैं। मुख्यमंत्री गत दिनों हरदा प्रवास के दौरान हरदा जिले को शत प्रतिशत सिंचित जिला बनाने की घोषणा कर चुके हैं। कृषि मंत्री श्री पटेल ने कहा कि तवा नगर के लोगों की पेयजल समस्या को जल जीवन मिशन के तहत पेयजल योजना स्वीकृत करके हल किया जाएगा।
विधायक नर्मदापुरम डॉ सीतासरन शर्मा ने कहा कि प्रदेश सरकार निरंतर किसानों के हित में कार्य कर रही हैं। विधायक सोहागपुर सिंह ने कहा कि हमारे प्रदेश की खुशहाली और संपन्नता हमारे अन्नदाता किसानों से ही है। नर्मदापुरम एवं हरदा जिले सहित पूरे प्रदेश में प्रदेश सरकार द्वारा सिंचाई के रकबे को निरंतर बढ़ाया जा रहा है। टिमरनी विधायक संजय शाह ने कहा कि कृषि मंत्री कमल पटेल और जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट ने मिलकर हरदा जिले के विकास को गति दी है। सिवनी मालवा विधायक प्रेम शंकर वर्मा ने कहा कि तवा नहर की मदद से दोनों जिले के किसान एक वर्ष में तीन-तीन फसलें ले रहे हैं।

CATEGORIES
TAGS
Share This

AUTHORRohit

I am a Journalist who is working in Narmadanchal.com.

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!