नेशनल लोक अदालत में 123 प्रकरण निराकृत, अलग अलग रह रहे पति पत्नी को मिलाया

Must Read

सोहागपुर, राजेश शुक्ला। सिविल न्यायालय परिसर में शनिवार को नेशनल लोक अदालत का आयोजन किया जिसमें 123 प्रकरणों का निराकरण किया गया है। इन प्रकरणों में 14 लाख से अधिक राशि के अवार्ड पारित किए गए हैं। इसके अलावा नेशनल लोक अदालत के माध्यम से 1 वर्ष से अधिक समय से अलग अलग रह रहे पति पत्नी को समझाइस के बाद मिला दिया गया है। दोनों ही पति पत्नी का न्यायाधीशों ने अभिनंदन किया एवं पौधे भेंट किए। जानकारी अनुसार नेशनल लोक अदालत का शुभारंभ जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के अध्यक्ष एडीजे संतोष कुमार सैनी, व्यवहार न्यायाधीश वर्ग 1 मधुलिका मुले एवं व्यवहार न्यायाधीश वर्ग 2 अंशुल चंद्रा ने मां सरस्वती की पूजन अर्चन कर किया। इस दौरान अधिवक्ता संघ अध्यक्ष वीके शर्मा सहित अधिवक्ता गण, अधिकारी कर्मचारी गण मौजूद थे।

 समझौते से 14 लाख से अधिक वसूले

नेशनल लोक अदालत में 3 खंडपीठ के माध्यम से सिविल, फौजदारी, बिजली प्रिलिटीगेशन , संपत्ति कर, जलकर , बैंक आदि के प्रकरण निराकरण के लिए रखे गए थे। सिविल न्यायालय में 84 प्रकरण निराकरण के लिए रखे गए थे । जिसमें 33 प्रकरणों का निराकरण कर 13 लाख 51 हजार 7 सौ 57 रुपये राशि के अवार्ड पारित किए गए हैं। नगरपालिका के 420 प्रकरण में से 66 प्रकरणों का निराकरण किया गया। वहीं बिजली विभाग के 2350 प्रकरणों में से 43 प्रकरणों का निराकार किया गया है। बैंक के 3430 प्रकरण में से केवल 14 प्रकरणों का निराकरण किया गया है। इस प्रकार नेशनल लोक अदालत के माध्यम से 123 प्रकरणों का निराकरण कर कुल 14 लाख 39 हजार 8 सौ 11 रुपये राशि के अवार्ड पारित किए गए हैं। जिससे 123 व्यक्ति लाभांवित हुए हैं।

spot_img
- Advertisement -spot_img

Latest News

लायंस क्लब के शिविर में 8 नये मधुमेह के रोगी मिले

इटारसी। लायंस क्लब इटारसी Lions Club Itarsi कपल के तत्वावधान में ग्राम जुझारपुर में निशुल्क मधुमेह परीक्षण एवं स्वास्थ्य...

More Articles Like This

error: Content is protected !!