सेवा भारती पत्रिका के विमोचन समारोह में सेवा की अनिवार्यता  पर चिंतन

सेवा भारती पत्रिका के विमोचन समारोह में सेवा की अनिवार्यता  पर चिंतन

इटारसी। सेवा के चार आयामों, शिक्षा, स्वास्थ्य, जागरण व स्वाबलंवन के क्षेत्रों में प्रदेश भर में सेवारत, समर्पित सेवा भारती मध्यभारत की नर्मदापुरम जिला इकाई द्वारा वृत्त चित्र प्रदर्शन व सेवा पत्रिका का विमोचन आज 8 जनवरी, रविवार को अग्निहोत्री गार्डन नर्मदापुरम में हुआ।

अध्यक्षता वरिष्ठ पत्रकार व साहित्यकार चंद्रकांत अग्रवाल ने की। मुख्य वक्ता विक्रम सिंह, प्रांत सह सेवा प्रमुख, भोपाल थे। सेवा भारती के जिलाध्यक्ष सतीश सांवरिया व राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के जिला संघ चालक पवन अग्रवाल मंचासीन थे।

अध्यक्षीय उद्बोधन में चंद्रकांत अग्रवाल ने कहा कि सेवा एक ऐसी साधना है जो आसान नहीं होती इसलिए सिर्फ साधना ही किसी इंसान को महान बनाती है। सेवा भावना तभी जाग्रत होती है जब अधिकारों व कर्तव्यों के मध्य संतुलन होता है। मुख्य वक्ता विक्रम सिंह ने कई उदाहरण देते हुए कहा कि जरूरतमंद लोगों की सहायता हेतु सामर्थ्यवान लोगों को आगे बढ़कर सेवा कार्यों में सहयोगी होना चाहिए।

सेवा भारती के जिलाध्यक्ष सतीश सांवरिया ने सेवा भारती का परिचय देते हुए, अपनी नवनियुक्त जिला कार्यकारिणी का परिचय सबसे कराया। उन्होंने कहा कि सेवा कार्य में समय का त्याग करने वाले कार्यकर्ताओं के साथ ही धन के समर्पण की भी महती भूमिका होती है।

अत: नर्मदापुर जिले मे सेवा कार्यों को गति प्रदान करने व स्वावलंबी भारत के निर्माण हेतु सेवा भारती द्वारा अपने उद्देश्यों, कार्यों, आदि से परिचित कराने के भाव से जिला स्तर पर यह कार्यक्रम किया है। संचालन प्रमोद शर्मा ने व आभार प्रदर्शन आनंद पारे ने किया।

सेवा भारती जिला समिति की घोषणा

सेवा भारती जिला नर्मदापुर मध्यभारत प्रांत की जिला समिति की इस अवसर पर घोषणा की गई जिसके अनुसार अध्यक्ष सतीश अग्रवाल सांवरिया, सचिव लक्ष्मण बैस, कोषाध्यक्ष आनंद पारे, उपाध्यक्ष मुकेश श्रीवास्तव, सहसचिव डॉ. हर्षल कावरे, उपाध्यक्ष डीएस दांगी, आशुतोष शर्मा, जसवंत पटेल, सदस्य विवेक भदौरिया, भगवान पटेल, छाया खंडेलवाल, मनिका गुप्ता, आमंत्रित सदस्य देवीसिंह मीणा हैं।  

CATEGORIES
TAGS
Share This

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus (0 )
error: Content is protected !!