शांत हो गयी ‘वॉइस ऑफ मुकेश’ कहे जाने वाले दिग्गज सिंगर कमलेश अवस्थी की आवाज

शांत हो गयी ‘वॉइस ऑफ मुकेश’ कहे जाने वाले दिग्गज सिंगर कमलेश अवस्थी की आवाज

मुंबई। प्यासा सावन का वो सुपरहिट गीत, ‘तेरा साथ है तो मुझे क्या कमी है’ और फिल्मी नसीब का ‘जिंदगी इम्तिहान लेती है’ जैसे सुपरहिट गीत देने वाले ‘वॉइस ऑफ मुकेश’ कहे जाने वाले दिग्गज सिंगर कमलेश अवस्थी की आवाज हमेशा के लिए शांत हो गयी। डॉ. कमलेश अवस्थी नहीं रहे। उन्हें गुजरात का ‘मुकेश’ भी कहा जाता था।

वे देशभर में ‘वॉइस ऑफ मुकेश’ के नाम से जाने जाते थे। कमलेश अवस्थी का 78 वर्ष की आयु में अहमदाबाद में उनके घर पर निधन हो गया। बताया जाता है कि वह पिछले एक महीने से कोमा में थे। उन्होंने ने ‘गोपीचंद जासूस’ में राज कपूर के लिए अपनी आवाज दी थी। वह ‘प्यासा सावन’ के हिट गाने ‘तेरा साथ है तो’ के लिए मशहूर थे। अवस्थी की एक और उल्लेखनीय प्रस्तुति फिल्म ‘नसीब’ का गाना ‘जिंदगी इम्तिहान लेती है’ थी।

उन्हें अपने एल्बम ‘ट्रिब्यूट टू मुकेश’ से खासी प्रसिद्धि मिली, जो महान गायक मुकेश के साथ उनकी गायन समानता को दर्शाता है। उनकी आवाज ने उन्हें ‘मुकेश की आवाज’ का खिताब दिलाया, खासकर तब जब राज कपूर ने फिल्म ‘गोपीचंद जासूस’ के लिए उनके गायन की प्रशंसा की, और कहा कि ऐसा लगा जैसे मुकेश वापस आ गए हैं। सिंगर कमलेश अवस्थी को उनके करियर और फिल्म इंडस्ट्री में योगदान के लिए कई पुरस्कार से सम्मानित किया था। उन्हें मिलेनियम मुकेश मेमोरियल अवॉर्ड से भी सम्मानित किया था।

CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

error: Content is protected !!