कीर्ति यादव शासकीय हाई स्कूल भट्टी का शोध पत्र राष्ट्रीय स्तर पर चयनित

कीर्ति यादव शासकीय हाई स्कूल भट्टी का शोध पत्र राष्ट्रीय स्तर पर चयनित

इटारसी। कहते हैं कि कहते हैं कि बच्चों को सही मार्गदर्शन व उचित मंच मिले तो उसके हुनर को चार चांद लग जाते हैं। जिले के शासकीय हाई स्कूल भट्टी (Government High School Bhatti) आदिवासी ब्लॉक की बाल वैज्ञानिक कीर्ति यादव (Kirti Yadav) ने आज के महत्वपूर्ण आवश्यकता पराली जलाने से पर्यावरण एवं मानव स्वास्थ्य पर पडऩे वाले प्रभावों का अध्ययन पर अपना प्रोजेक्ट (Project) बनाया। इसका चयन राष्ट्रीय स्तर पर हुआ है।

पराली जलाने से होने वाले नुकसान को ध्यान में रखकर बाल वैज्ञानिक ने ग्रामीण किसानों, मिट्टी परीक्षण प्रयोगशालाओं, सरपंच, पटवारी आदि बुद्धिजीवियों से जानकारी प्राप्त कर शोध पत्र का उचित समाधान किया। भारत सरकार के राष्ट्रीय विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी संचार परिषद मंत्रालय (Ministry of National Council of Science and Technology Communication Government of India) नई दिल्ली (New Delhi) व साइंस सेंटर ग्वालियर (Science Center Gwalior) द्वारा 31 वी राष्ट्रीय बाल विज्ञान कांग्रेस का तीन दिवसीय राज्य स्तरीय आयोजन मिलेनियम ग्रुप भोपाल (Millennium Group Bhopal) में संपन्न हुआ।

द्वितीय चरण में मध्य प्रदेश के सभी जिलों से 67 बाल वैज्ञानिक ने अपने शोध पत्रों का प्रस्तुतीकरण किया इस आयोजन में नर्मदापुरम जिले की छात्रा कीर्ति यादव का राष्ट्रीय स्तर पर चयन हुआ। अपना शोध पत्र मार्गदर्शक शिक्षक योगेश तिवारी के मार्गदर्शन में प्रस्तुत किया। राष्ट्रीय स्तर पर वरिष्ठ वैज्ञानिकों के समक्ष उक्त छात्रा मध्य प्रदेश का प्रतिनिधित्व करेगी। इस अवसर पर इस अवसर पर जिला शिक्षा अधिकारी, सहायक संचालक, जिला समन्वयक बी एल मलैया, शाला प्राचार्य एवं स्टाफ तथा बुद्धिजीवी प्रवर्ग, अनेक ग्रामवासियों ने उज्ज्वल भविष्य के लिए शुभकामनाएं दी।

CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

error: Content is protected !!