हैप्पी न्यू ईयर को बुध करेंगे गुडमार्निग, तो गुड इवनिंग करेंगे जुपिटर, सेटर्न

हैप्पी न्यू ईयर को बुध करेंगे गुडमार्निग, तो गुड इवनिंग करेंगे जुपिटर, सेटर्न

प्लैनेट्स के हैप्पी न्यू ईयर

– परिक्रमा करते हुये प्लेनेट हर साल बदल लेते हैं अपनी जिम्मेदारी

– ग्रहों के हैप्पी न्यू ईयर को बताया राजेश पाराशर ने

इटारसी। आज जब आप 2021 की पहली सूरज किरण के साथ यह समाचार पढ़ रहे होंगे तो आकाश में सूर्य के अलावा बुध एवं शुक्र ग्रह गुड मार्निंग (Gudmorning) कह रहे होंगे लेकिन वो सूरज की चमक के कारण आकाश में छिपे होंगे। जब आप नये साल (New Year) की शाम को कहीं पार्टी पर जाने की तैयारी कर रहे होंगे तो आपका साथ देने शाम के आकाश में बृहस्पति, शनि गुड इवनिंग (Gud Evening) कहकर 7 बजे विदा हो जायेंगे। इसके बाद मंगल, यूरेनस और नेपच्यून गुड नाईट (Neptune good night) कहने आपका साथ देंगे।

विज्ञान शिक्षक राजेश पाराशर (Science teacher Rajesh Parashar) ने बताया कि 2020 की शुरूआत में पृथ्वी आज जिस स्थान पर थी, आज फिर उसी स्थान पर पहुंच गई। लेकिन बाकी ग्रहों ने अपना स्थान बदल लिया है। आगामी साल की शुरूआत में भी पृथ्वी उसी स्थान पर होगी, लेकिन गुड मार्निंग, गुड इवनिंग कहने वाले ग्रहों की जिम्मेदारी बदल चुकी होगी। पाराशर ने बताया कि यह इसलिये होता है कि हर ग्रह को सूर्य की एक परिक्रमा करने में अलग-अलग समय लगता है। जो ग्रह सूर्य के पास है उसका एक चक्कर जल्दी पूरा होता है और इनका हैप्पी न्यू ईयर जल्दी आता है, लेकिन दूर स्थित नेप्च्यून को एक चक्कर लगाने में लगभग 165 साल लग जाते हैं।

ग्रह परिक्रमण समय
बुध – 88 दिन
शुक्र 225 दिन
पृथ्वी 365 दिन
मंगल मार्स 687 दिन
बृहस्पति जुपिटर 4333 दिन लगभग 12 वर्ष
शनि सेटर्न 10759 दिन लगभग 30 वर्ष
यूरेनस 30687 दिन लगभग 84 वर्ष
नेप्च्यून 60190 दिन लगभग 165 वर्ष

CATEGORIES
TAGS

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this:
Narmadanchal

FREE
VIEW