नर्मदा के स्पर्श मात्र से पुण्य फल प्राप्त होता

नर्मदा के स्पर्श मात्र से पुण्य फल प्राप्त होता

इटारसी। ग्राम सोना सावरी में जनकल्याण एवं लोक शांति के लिए श्री नर्मदा पुराण कथा समारोह का आयोजन किया जा रहा है। पटेल परिवार द्वारा आयोजित इस कथा समारोह के शुभारंभ अवसर पर बजरंग मंदिर प्रांगण से भव्य कलश यात्रा मां नर्मदा की दिव्य प्रतिमा के साथ निकाली गई जो संपूर्ण गांव का भ्रमण करते हुए कथा स्थल संस्कार मंडपम गार्डन में संपन्न हुई।
इस कलश यात्रा में समस्त ग्रामवासी श्रद्धा और भाव के साथ सम्मिलित हुए। कलश यात्रा के पश्चात व्यास मंच पर मां नर्मदा की प्रतिमा एवं उनके कथा पुराण की प्राण-प्रतिष्ठा मुख्य यजमान दीनदयाल पटेल, बलराम पटेल एवं कार्यक्रम संयोजक अनिरुद्ध पटेल द्वारा की गई। प्रवचनकर्ता पुराण मनीषी मधुसूदन महाराज ने प्रथम दिवस में व्यास गादी से कथा को विस्तार देते हुए कहा कि पतित पावनी मां नर्मदा जिनके पावन कछार में हम सब निवासरत हैं। यह हमारा सौभाग्य है, क्योंकि नर्मदा से पावन और कोई नदी इस देश में नहीं है। नर्मदा जी के स्पर्श मात्र से जो पुण्य प्राप्त होता है। वह सदा फलदाई रहता है। इसके साथ ही अनेक ज्ञान पूर्ण प्रसंगों के साथ आचार्यश्री ने श्री नर्मदा जी के आध्यात्मिक एवं सांसारिक महत्व से श्रोताओं को अवगत कराया।

CATEGORIES
TAGS
Share This

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus (0 )
error: Content is protected !!