मेथेमेटिकल टूल्स एवं साफ्टवेयर विषय पर राष्ट्रीय कार्यशाला हुई

इटारसी। शासकीय महात्मा गांधी स्मृति स्नातकोत्तर महाविद्यालय, इटारसी में गणित विभाग द्वारा मेथेमेटिकल टूल्स एवं साफ्टवेयर विषय पर आयोजित सात दिनी राष्ट्रीय कार्यशाला का समापन महाविद्यालय के जनभागीदारी समिति अध्यक्ष डॉ. नीरज जैन के मुख्य आतिथ्य एवं महाविद्यालय की प्राचार्य डॉ. राकेश मेहता की अध्यक्षता में आयोजित किया गया।

गणित विभाग की विभागाध्यक्ष डॉ. रश्मि तिवारी ने कार्यशाला का प्रतिवेदन प्रस्तुत किया करते हुए बताया कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 की मुख्य अवधारणा है, विद्यार्थियों को रोजगारमूलक शिक्षा प्रदान करना और उच्च शिक्षा विभाग मध्य प्रदेश शासन भोपाल द्वारा प्रदेश में राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 लागू कर इसी अवधारणा को साकार करने का प्रयास किया जा रहा है। कार्यशाला में एमिटी विश्वविद्यालय, कलकत्ता पश्चिम बंगाल एवं जामिया मिल्लिया विश्वविद्यालय नई दिल्ली से विषय विशेषज्ञों ने विद्यार्थियों को ऑनलाइन जुड़कर प्रशिक्षण दिया। डॉ. अनिरबन मित्रा एसोसिएट प्रोफेसर एमिटी यूनिवर्सिटी कलकत्ता ने पायथान और कोडिंग फार कंपनी रिक्वायरमेंट मेथेमेटिक्स रिसर्च विषय पर आनलाइन व्याख्यान दिया।

डॉ. वेदप्रकाश भारद्वाज शासकीय कला एवं विज्ञान महाविद्यालय, सुखतवा ने मैथेमेटिकल माडलिंग विषय पर विस्तृत प्रकाश डाला। डॉ. अभिजीत पंडित, एसोसिएट प्रोफेसर एमिटी यूनिवर्सिटी कलकत्ता ने ऑनलाइन आर स्टूडियो, स्मार्ट पीएलएस एवं एसपीएसएस साफ्टवेयर की विस्तृत जानकारी दी। जामिया मिल्लिया विश्वविद्यालय नई दिल्ली से डॉ इजाहरूद्दीन सहायक प्राध्यापक ने रिसर्च टॉपिक्स इन मैथेमेटिक्स पर विद्यार्थियों से चर्चा करते हुए बताया कि गणित विषय में रिसर्च किसी भी समस्या को गणितीय रूप में बदलकर एल्गोरिथम डेवलप कर उसके एप्लीकेशन को देखकर की जा सकती है।

सब्यसाची मंडल, एसोसिएट प्रोफेसर एमिटी यूनिवर्सिटी कलकत्ता ने इन्ट्रोडक्शन आफ मैटलेब विषय पर बताया कि इस साफ्टवेयर का उपयोग अवकल समीकरण,रैखिक समीकरण आदि हल करने में सहायक होता है। डॉ. रमाकांत भारद्वाज एसोसिएट प्रोफेसर एमिटी यूनिवर्सिटी कलकत्ता ने गणितीय साफ्टवेयर की उपयोगिता बताते हुये विद्यार्थियों को अपना लक्ष्य निर्धारित कर साफ्टवेयर डेवलपमेंट,डाटा एनालिसिस जैसे क्षेत्र में रोजगार के अवसर तलाशने की प्रेरणा दी। अन्य वक्ता डॉ पूर्वी भारद्वाज ने गणितीय भौतिकी विषय पर सारगर्भित व्याख्यान दिया। प्राचार्य डॉ. राकेश मेहता ने कार्यशाला से जुड़े विभिन्न विषय विशेेषज्ञों को धन्यवाद ज्ञापित किया। डॉ. नीरज जैन ने विभाग के इस प्रयास की सराहना करते हुए विद्यार्थियों के लिए हितकर बताया।

इस दौरान भाषण प्रतियोगिता में प्रथम दीक्षा तिवारी, द्वितीय कुमकुम पटेल, तृतीय समा खान, पोस्टर प्रतियोगिता में प्रथम अस्मिता सोलंकी, द्वितीय सोनाली पटेल तृतीय अनन्या द्विवेदी, प्रश्न मंच में प्रथम जानकी साहू, दीक्षा तिवारी, अनन्या द्विवेदी. द्वितीय माधुरी सोनी, विशाखा पांडव, ज्योति पांडे तृतीय उत्कर्ष डंडारे, हर्षित रावत, ममता गौर रहे। सभी को प्रमाण पत्र एवं पुरस्कार वितरण किया। अतिथियों को गणित विभाग द्वारा प्रतीक चिन्ह भेंट किये गये।

Royal
CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

error: Content is protected !!