मंगलवार, मई 28, 2024

LATEST NEWS

Related Posts

पुलिस ने किया अंधे कत्ल का खुलासा, एक नाबालिग और दो आरोपी गिरफ्तार

नर्मदापुरम। पुलिस (Police) ने 24 घंटों के भीतर वेल्डिंग दुकान संचालक (Welding Shop Operator) के अंधे कत्ल का खुलासा करने में सफलता प्राप्त की है। ज्ञात है कि गुरुवार की शाम कालिका नगर (Kalika Nagar), नर्मदापुरम (Narmadapuram) में वेल्डिंग संचालक की हत्या कर दी गई थी। नारायण प्रसाद विश्वकर्मा (Narayan Prasad Vishwakarma) उर्फ भूरा का मृत अवस्था में मिला था। घटना स्थल पर ही मौजूद मृतक के भतीजे अरुण (Arun) पिता ओमप्रकाश विश्वकर्मा (Omprakash Vishwakarma) उम्र 25 वर्ष निवासी रायपुर (Raipur) थाना कोतवाली नर्मदापुरम द्वारा जानकारी दी गई कि चाचा नारायणप्रसाद उर्फ भूरा पिता द्वारका प्रसाद विश्वकर्मा उम्र 42 वर्ष निवासी ग्राम रायपुर जिनकी वेल्डिंग की दुकान कालिका नगर रोड राजस्थान मार्बल के सामने स्थित है, उनकी अज्ञात आरोपियों ने चाकू से हत्या कर दी है।

थाना कोतवाली नर्मदापुरम में अपराध कायम कर विवेचना में लिया गया। पुलिस अधीक्षक गुरकरण सिंह (Superintendent of Police Gurkaran Singh) के मार्गदर्शन एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक आशुतोष मिश्रा (Additional Superintendent of Police Ashutosh Mishra) तथा अनुविभागीय अधिकारी (पुलिस) नर्मदापुरम पराग सैनी (Parag Saini) के निर्देशन में पुलिस अधीक्षक नर्मदापुरम की टीम का गठन अपराध की विवेचना एवं आरोपियों की तलाश के लिये किया। विवेचना के दौरान चश्मदीदों के बयानों के आधार पर आरोपियों की पहचान शिवा जाटव (Shiva Jatav) पिता सुंदरलाल (Sunderlal) उम्र 23 साल निवासी राठौर निवासी बालागंज, शुभम जाटव पिता दिगंबर जाटव उम्र 23 साल निवासी कालिका नगर नर्मदापुरम एवं एक नाबालिक के रूप में हुई। टीम कस्बा नर्मदापुरम एवं भोपाल (Bhopal) क्षेत्रांतर्गत भेजी एवं पुलिस टीमों ने आरोपियों के संबंध में लगातार प्राप्त हो रहे तकनीकी साक्ष्य एवं मुखबिर सूचना के आधार पर घटना करने वाले दोनों आरोपियों को गिरफ्तार किया एवं एक बालक को अभिरक्षा में लिया और घटना में प्रयुक्त हथियारों की बरामद किया है।

उक्त अंधे कत्ल का खुलाशा करने में अनुविभागीय अधिकारी (पुलिस) नर्मदापुरम पराग सैनी, थाना प्रभारी कोतवाली आईसी एसएचओ डीएल विश्वकर्मा, उनि विपिन पाल, मालवीय, सउनि सुखनंदन नरें, वीरेन्द्र शुक्ला, गोपाल पाल, प्रधान आरक्षक विशाल भदौरिया, सौरभ जाटव, अरविन्द चौबे, अशोक चौबे, तरुण चंदेल, कमलेश शमा, जीतेन्द्र राजपूत, आरक्षक कपिल विश्वकर्मा, संगीत शर्मा, राजकुमार झपाटे, शैलेन्द्र यादव, राजेश चौहान, गौरव तिवारी, संदीप जोशी, बालकृष्ण, प्रकाश रघुवंशी, नवल सिंह, थाना देहात से संजय यादव एवं अजमेश चन्द्रोल की मुख्य भूमिका रही है।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Popular Articles