बाल विवाह एवं बेटी बचाओ पर गर्ल्स कॉलेज में हुए कार्यक्रम

बाल विवाह एवं बेटी बचाओ पर गर्ल्स कॉलेज में हुए कार्यक्रम

इटारसी। शासकीय कन्या महाविद्यालय, इटारसी (Government Girls College, Itarsi) में कैलाश सत्यार्थी चिल्ड्रन फाउंडेशन नर्मदापुरम (Kailash Satyarthi Children Foundation Narmadapuram) के सहयोग से बाल विवाह एक सामाजिक कुरीति है, विषय पर भाषण प्रतियोगिता एवं बेटी बचाओ विषय पर रंगोली प्रतियोगिता आयोजित की गई।

इस अवसर पर प्राचार्य डॉ. आरएस मेहरा (Principal Dr. RS Mehra) ने कहा कि बाल विवाह एक वैश्विक मुद्दा है जो गरीबी, सुरक्षा, लैंगिक असमानता एवं सामाजिक मानदंडों से प्रेरित है। बाल विवाह एक सामाजिक बुराई एवं कानूनन अपराध है। इस बुराई के विरुद्ध बच्चों के बचपन एवं उनके अधिकारों की रक्षा करने की जिम्मेदारी हम सब पर है। सत्यार्थी फाउंडेशन के जिला प्रभारी सत्येंद्र चौरे (Satyendra Chaure) ने कहा कि 16 अक्टूबर के दिन ही नोबेल पुरस्कार विजेता कैलाश सत्यार्थी ने बाल विवाह मुक्त भारत अभियान की शुरुआत की थी। इसी श्रृंखला में बाल विवाह, बाल श्रम, बाल शोषण के विरुद्ध अलख जगाने के लिए हम समाज में सक्रिय भूमिका निभाने वाली शैक्षणिक संस्थाओं में जागरूकता कार्यक्रम कर रहे हैं।

संचालक डॉ शिरीष परसाई (Dr. Shirish Parsai) ने कहा कि आधुनिक युग में जब पूरा विश्व वैज्ञानिक प्रगति कर रहा है, भारत समेत पूरे विश्व में बाल विवाह की घटनाएं घटित होना चिंता जनक है। शिक्षा ही जीवन स्तर सुधारने और निर्णय लेने की क्षमता विकसित कर बाल विवाह का जड़मूल नाश कर सकती है। डॉ. श्रद्धा जैन (Dr. Shraddha Jain) ने कहा कि इस समस्या के निराकरण के लिए सरकार और समाज के जागरूक संगठनों को प्रयास और तेज करने होंगे।

प्रतियोगिता के परिणाम

भाषण प्रतियोगिता में प्रथम स्थान सौम्या सूद, द्वितीय स्थान खुशी तोमर एवं तृतीय स्थान दिव्या भार्गव के द्वारा प्राप्त किया गया जबकि रंगोली प्रतियोगिता में प्रथम स्थान पलक साहू, द्वितीय स्थान पीहू सराठे एवं तृतीय स्थान सानिया राइम ने प्राप्त किया। छात्राओं को बाल विवाह, बाल श्रम, बाल शोषण के विरुद्ध कार्य करने की शपथ दिलाई गई। कार्यक्रम में वरिष्ठ प्राध्यापक डॉ. हरप्रीत रंधावा, पूनम साहू, डॉ. शिरीष परसाई, डॉ. श्रद्धा जैन, डॉ. शिखा गुप्ता, प्रिया कलोसिया, क्षमा वर्मा, स्मिता मसीही, ज्योति खैरवार एवं अनेक छात्राएं उपस्थित थीं।

CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

error: Content is protected !!