राजेश पाराशर नवाचारी प्रयोग से बता रहे हैं, हर वोट है कीमती

राजेश पाराशर नवाचारी प्रयोग से बता रहे हैं, हर वोट है कीमती

  • – चुनावी प्रयोगशाला से समझा रहे हैं चर्चित चुनावों में मतदाता का महत्व
  • – राजेश पाराशर बदलते रंग से समझा रहे हर वोट का दम
  • वोट का महत्व है चरम, हर मतदाता निभाये लोकतंत्र का धरम
  • – कलेक्टर नीरज कुमार सिंह के मार्गदर्शन में जागरूकता कार्यक्रम

इटारसी। रसायन के प्रयोग अब प्रयोगशाला से निकल कर वार्डों तथा चौपालों तक पहुंच गये हैं। इन स्थानों के मतदाता ये प्रयोग अध्ययन के लिये नहीं बल्कि इन चुनावों में हर मत की अहमियत को समझने के लिये समझ रहे हैं। विज्ञान शिक्षक राजेश पाराशर (Science teacher Rajesh Parashar) नवाचारी प्रयोग से हर एक वोट की कीमत बता रहे हैं। इन प्रयोगों को नर्मदापुरम कलेक्टर नीरज कुमार सिंह (Narmadapuram Collector Neeraj Kumar Singh) के मार्गदर्शन में किया जा रहा है।

राजेश पाराशर ने कहा कि करके देखो और समझो का सिद्धांत सीखने का सबसे अच्छा मंत्र होता है, इस बात को ध्यान में रखते हुये इस नवाचारी जागरूकता कार्यक्रम को किया जा रहा है। प्रयोग में प्रतीकात्मक वोट डाले जाते हैं। जैसे-जैसे वोट डलते जाते हैं, प्रतीकात्मक सरकार का रंग बदलते जाता है। इस कार्यक्रम में नवमतदाताओं को ईवीएम (EVM) से वोट देने का सही तरीका भी समझाया जा रहा है। कार्यक्रम में एमएस नरवरिया (MS Narwaria) ने सहयोग किया।

कैसे होता है यह प्रयोग

एक फ्लास्क (Flask) को प्रतीकात्मक सरकार के रूप में रखा गया है। इसमें 7 टेस्टटयूब को मतदाताओं के रूप में प्रदर्शित किया गया है। सभी वोट पानी की तरह रंगहीन हैं। जब पहली और दूसरी वोट डाली जाती है तो सरकार का कोई रंग नहीं दिखता लेकिन तीसरी वोट डालते ही वह गुलाबी हो जाती है। चौथी वोट डालने पर वह फिर रंगहीन हो जाती है। पांचवी वोट डालने पर वह गहरा बैगनी हो जाती है तो छटवी वोट डालने पर हल्का जामुनी रंग दिखने लगता है। सातवी वोट इसका रंग फीका कर देती है। इस प्रयोग से बताया जाता है कि हर एक वोट हर आने वाली सरकार को निर्धारित करने में महत्व रखती है। तो इन चुनावों में हर एक मतदाता को अपनी जिम्मेदारी समझना बहुत जरूरी है। तो मतदान केंद्र पर पहुंच कर करें मतदान एक जिम्मेदार मतदाता के रूप में।

CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

error: Content is protected !!