मध्यप्रदेश में वर्षा का दूसरा दौर शुरु, तवा बांध में जलस्तर बढ़ा

मध्यप्रदेश में वर्षा का दूसरा दौर शुरु, तवा बांध में जलस्तर बढ़ा

इटारसी। मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) में बारिश का दूसरा दौर प्रारंभ हो गया है और बीते चौबीस घंटे में मध्यप्रदेश के अनेक जिलों में झमाझम बारिश (Jhajjham rain) हुई है। नर्मदापुरम संभाग (Narmadapuram division) के कुछ जिलों में भी अच्छी वर्षा दर्ज की गई है। वर्षा का यह दौर आगे और तेज होगा।

मौसम विभाग (Meteorological Department) के अनुसार बीते चौबीस घंटे में सबसे अधिक 62.4 मिमी वर्षा सिवनी जिले (Seoni District) में दर्ज की गई है। इसके अलावा छिंदवाड़ा 59.2 मिमी, उमरिया 57.6, जबलपुर 48.6, नरसिंहपुर 46 मिमी, नौगांव 41, रायसेन 33.8, मलाजखंड 30, पचमढ़ी 29.4, मडला 23, रीवा 21.8, सीधी 20.8, खजुराहो 17.6, गुना 17.2, नर्मदापुरम 12.6, सागर 12 मिमी, बैतूल 5.8, सतना 5.5, दमोह 3 मिमी, टीकमगढ़ 3, भोपाल 2.6, खरगोन 2.2 डिग्री सेल्सियस वर्षा दर्ज की गई है।

बांध का जलस्तर बढ़ा

पचमढ़ी (Pachmarhi) और बैतूल (Betul) जिले में बारिश के बाद तवा बांध (Tawa Dam) के जलस्तर में मामूली वृद्धि दर्ज की गई है। पिछले कई दिनों से बारिश नहीं होने से बांध का जलस्तर 1161.10 पर स्थित रहा था। अब यह एक पाइंट बढ़कर 1161.20 हो गया है। तवा के कैचमेंट एरिया (Catchment Area) में पिछले चौबीस घंटे में 9.80 मिमी वर्षा दर्ज हुई है और अब तक यहां 690.20 मिमी वर्षा हो चुकी है। बांध से पावर हाउस (Power House) को बिजली बनाने दो हजार क्यूसेक पानी दिया जा रहा है। 15 अगस्त के बाद बांध का गवर्निंग लेबल (Governing Label) बढ़कर 1163 फीट हो गया है। 31 अगस्त तक बांध में इतना पानी होना चाहिए। यानी यदि अच्छी वर्षा हुई और जलस्तर 1163 को पार कर गया तो ही बांध के गेट खुलने की संभावना है।

CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

error: Content is protected !!