जिले में ढाई सौ बूथ रहेंगे केवल महिलाओं के जिम्मे

जिले में ढाई सौ बूथ रहेंगे केवल महिलाओं के जिम्मे

  • – केंद्रीय प्रेक्षक के निर्देश निष्पक्ष और पारदर्शी ढंग से कराएं निर्वाचन
  • – निर्वाचन आयोग के निर्देशों का गंभीरता से पालन करें अधिकारी

इटारसी। इस बार विधानसभा चुनावों (Assembly Elections) के लिए जिले में 250 पोलिंग बूथ (Polling Booth) ऐसे हैं जिनका शत प्रतिशत संचालन महिला कर्मी ही करेंगी। इन बूथों पर केवल महिला कर्मचारियों की ही ड्यूटी लगायी जा रही है। यह जानकारी कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी नीरज कुमार सिंह (Neeraj Kumar Singh) ने केन्द्रीय प्रेक्षकों के साथ बैठक में दी। कलेक्टर श्री सिंह ने बताया कि जिले में 250 ऐसे मतदान केन्द्र बनाए गए हैं, जिनका पूरी तरह संचालन महिला कर्मी करेंगी। इन पोलिंग बूथ में केवल महिला कर्मियों की ड्यूटी लगाई जाएगी।

जिले में 100 आदर्श मतदान केंद्र बनाए हैं। 4 दिव्यांग मतदान केंद्र एवं 19 शैडो एरिया (Shadow Area) मतदान केंद्र हैं। कुल 1187 मतदान केंद्रों में से 594 मतदान केंद्रों पर वेब कास्टिंग (Web Casting) (लाइव स्ट्रीमिंग)की जाएगी। कलेक्टर श्री सिंह ने बैठक में बताया कि जिले में निर्वाचन के लिए 872 वाहनों की आवश्यकता है, जिनकी जिले में उपलब्धता है। विधानसभा निर्वाचन स्वतंत्र, निष्पक्ष, पारदर्शी एवं शांतिपूर्ण ढंग से कराने भारत निवार्चन आयोग द्वारा जिले के लिए नियुक्त सामान्य प्रेक्षक उदय नारायण दास (Uday Narayan Das), सुहास एस (Suhas S), व्यय लेखा प्रेक्षक रजत दत्ता (Rajat Dutta) तथा पुलिस प्रेक्षक शिवहरि मीना (Shivhari Meena) ने कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित बैठक में जिले की चारों विधानसभाओं के लिए जिला प्रशासन द्वारा की गई तैयारियों की समीक्षा की। बैठक में सभी प्रेक्षकों ने उपस्थित अधिकारियों से कहा कि चुनाव निष्पक्ष और पारदर्शी ढंग से सम्पन्न कराने के लिए भारत निर्वाचन आयोग के दिशा-निर्देशों का कढ़ाई से पालन करें। बैठक में कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी नीरज कुमार सिंह ने चारों विधानसभाओं के निर्वाचन के लिए की गई तैयारियों के बारे में विस्तार से अवगत कराया।

जिलेे में 1187 मतदान केन्द्र

कलेक्टर श्री सिंह ने जिले के इलेक्शन प्लान के बारे में बताया कि जिले में कुल 1187 मतदान केन्द्र हैं जिनमें सिवनीमालवा विधानसभा अंतर्गत 318, होशंगाबाद विधानसभा में 238, सोहागपुर विधानसभा में 314 एवं पिपरिया विधानसभा में 317 मतदान केंद्र शामिल हैं। 291 मतदान केंद्र शहरी क्षेत्र एवं 896 ग्रामीण क्षेत्रों में है। जिले में मतदान प्रतिशत को बढ़ाने के लिए विभिन्न नवाचारी गतिविधियों का प्रतिदिन आयोजन किया जा रहा है। कम मतदान प्रतिशत वाले मतदान केंद्रों को चिन्हित किया गया है, ऐसे केंद्रो पर डोर टू डोर संपर्क सहित अन्य विशेष अभियान के माध्यम से मतदाताओं को जागरूक करने के प्रयास किए जा रहे हैं।

6160 कर्मचारी कराएंगे मतदान

श्री सिंह ने बताया कि कुल 6160 कर्मचारी मतदान के लिए उपलब्ध है। साथ ही 118 सेक्टर ऑफिसर, 1050 माइक्रो आब्जर्वर मतदान और मतगणना के लिए 1187 बीएलओ, 110 बीएलओ सुपरवाइजर और 185 मतगणना अधिकारी उपलब्ध हैं। जिन्हें निर्धारित शेड्यूल के अनुसार प्रशिक्षण दिया जा रहा है। बैठक में एसपी डॉ गुरकरन सिंह (Dr. Gurkaran Singh), जिला पंचायत सीईओ एसएस रावत (SS Rawat), अपर कलेक्टर देवेंद्र कुमार सिंह (Devendra Kumar Singh) सहित अनेक अधिकारी उपस्थित थे।

76 लाख से अधिक की राशि जब्त

पुलिस अधीक्षक डॉ सिंह ने बताया कि जिले में सघन जांच एवं निगरानी के लिए जिले की सीमाओं पर 14 जांच बनाए हैं, 12 एफएसटी, 12 एसएसटी तथा 4 वीएसटी दल सक्रिय हैं। जिनके द्वारा लगभग 76 लाख की राशि, 44 लाख लागत की अवैध शराब एवं 5 लाख की नशीले पदार्थों को जब्त किया है। आपराधिक प्रवृत्ति के व्यक्तियों के खिलाफ जिला बदर सहित अन्य प्रतिबंधात्मक कार्रवाई की गई हैं ।

मतदाताओं की संख्या 9,40,069

जिले की चारों विधानसभा में कुल मतदाताओं की संख्या 940069 हैं, जिनमें पुरुष मतदाताओं की संख्या 486657 , महिला मतदाताओं की संख्या 453377 एवं 35 अन्य मतदाता है। 18 से 19 वर्ष आयु के नवीन मतदाताओं की संख्या 43603 हैं,जिनमें 23797 पुरुष एवं 19806 महिला शामिल हैं। जिले में 80 प्लस आयु के मतदाताओं की संख्या 10905 है जिनमें 4440 पुरुष एवं 6465 महिलाएं शामिल है। मतदाता सूची का लिंगानुपात 931.62 है एवं ईपी रेशों 66.72 हैं। जिले में दिव्यांग मतदाताओं की संख्या 8988 है जिनमें 5733 पुरुष एवं 3255 महिला शामिल हैं। वहीं सर्विस वोटर की संख्या 1894 हैं।

निर्वाचन संबंधी कार्यवाही देखी

भारत निवार्चन आयोग द्वारा जिले के लिए नियुक्त सामान्य प्रेक्षक उदय नारायण दास, सुहास एस, व्यय लेखा प्रेक्षक रजत दत्ता तथा पुलिस प्रेक्षक शिवहरि मीना ने कलेक्टर कार्यालय में चल रही विभिन्न निर्वाचन संबंधी गतिविधियों का निरीक्षण किया और विस्तार से जानकारी ली। उन्होंने पेड न्यूज मॉनिटरिंग सेल, निर्वाचन व्यय लेखा सेल, जिला कन्ट्रोल रूम, वीवीटी आदि कक्षों का निरीक्षण कर निर्वाचन संबंधी कार्यवाही को देखा।

CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

error: Content is protected !!