मतदान दिवस को लोकतंत्र के उत्सव के रूप में मनाना चाहिए

मतदान दिवस को लोकतंत्र के उत्सव के रूप में मनाना चाहिए

नर्मदापुरम। मतदान जागरूकता अभियान के अंतर्गत शासकीय नर्मदा महाविद्यालय (Government Narmada College) में संगीत विभाग के विभागाध्यक्ष जयसिंह ठाकुर (Jaisingh Thakur) के मार्गदर्शन में प्रभावी सांस्कृतिक कार्यक्रम किए गए। इस मौके पर डॉ. ओएन चौबे (Dr.ON Choubey) ने विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए कहा कि मतदान का दिन लोकतंत्र का उत्सव है, इसलिए उत्सव को उत्सव की तरह मनाना चाहिए।

डॉ अमिता जोशी (Dr. Amita Joshi), डॉ. विनीता अवस्थी (Dr. Vineeta Awasthi) ने विद्यार्थियों को मतदान का महत्व समझाया। डॉ. हंसा व्यास (Dr. Hansa Vyas) ने मतदान को लोकतंत्र की एक संस्कृति बताते हुए कहा कि हमें इस संस्कृति का निर्वाह पूरे संस्कारों के साथ करना चाहिए। हम स्वयं भी मतदान करें और आसपास के लोगों को मतदान के लिए प्रेरित करें। जो विकलांग हैं, जो बुजुर्ग हैं, हम उनकी मदद करके लोकतंत्र के इस उत्सव को मना सकते हैं। उर्वशी सराठे ने काव्य पाठ करते हुए कहा मतदान करो, करवाओ घर में आराम मत करो।

केतन यादव ग्रुप ने नृत्य नाटिका से मतदान का महत्व बताया। कुमकुम साहू, सृष्टि चौरे, कपिल कुशवाहा, मोहन मांझी, ज्योति मीना, नेहा शर्मा ने देशभक्ति नृत्य के द्वारा देश के प्रति मतदान के कर्तव्य को समझाया। उर्वशी के समूह ने मेरे भारत की बेटी गीत गाकर मतदान की आवश्यकता को बताया। डॉ अर्पणा श्रीवास्तव ने संचालन किया। प्रतिवेदन प्रस्तुत करते हुए डॉ अंजना यादव ने कहा कि मजबूत लोकतंत्र के लिये मतदान आवश्यक है। डॉ कल्पना विश्वास ने आभार व्यक्त किया।

CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

error: Content is protected !!