17 नवंबर को मतदान, 3 दिसंबर को मतगणना, 21 से 30 अक्टूबर तक नामांकन

17 नवंबर को मतदान, 3 दिसंबर को मतगणना, 21 से 30 अक्टूबर तक नामांकन

– 2 नवंबर तक नाम निर्देशन पत्र वापस लिये जा सकेंगे

नर्मदापुरम। विधानसभा निर्वाचन 2023 के संबंध में सोमवार को कलेक्टोरेट (Collectorate) के सभाकक्ष में जिला निर्वाचन अधिकारी नीरज कुमार सिंह (Neeraj Kumar Singh) एवं पुलिस अधीक्षक डॉ गुरकरन सिंह (Dr. Gurkaran Singh) की उपस्थिति में प्रेस कॉन्फ्रेंस (Press Conference) आयोजित की गई, जिसमें भारत निर्वाचन आयोग (Election Commission of India) द्वारा निर्धारित निर्वाचन शेड्यूल एवं निर्वाचन के लिए प्रशासन द्वारा की गई तैयारी के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई। इस दौरान जिला पंचायत सीईओ एसएस रावत (SS Rawat), उप जिला निर्वाचन अधिकारी देवेंद्र कुमार सिंह (Devendra Kumar Singh), नेशनल लेवल मास्टर ट्रेनर पंकज दुबे (Pankaj Dubey) सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

कलेक्टर श्री सिंह ने बताया कि भारत निर्वाचन आयोग द्वारा निर्वाचन की घोषणा के साथ ही जिले में तत्काल प्रभाव से आदर्श आचरण संहिता प्रभावी हो गई है। विधानसभा निर्वाचन के लिए नोटिफिकेशन (Notification, Returning Officer) 21 अक्टूबर शनिवार को जारी किया जाएगा। जिसके साथ ही 30 अक्टूबर तक अभ्यर्थियों द्वारा नाम निर्देशन पत्र संबंधित रिटर्निंग ऑफिसर कार्यालय के निर्धारित स्थान पर प्राप्त किए जाएंगे। 31 अक्टूबर तक प्राप्त आवेदनों का परीक्षण किया जाएगा। अभ्यर्थी 2 नवंबर तक नाम वापस ले सकेंगे। 17 नवंबर शुक्रवार को जिले में मतदान किया जाएगा। मतगणना 3 दिसंबर रविवार के दिन की जाएगी इसके लिए संभागीय आईटीआई नर्मदापुरम (Divisional ITI Narmadapuram) को मतगणना केंद्र के रूप में चिन्हित किया है।

दिव्यांग और बुजुर्ग मतदाताओं को घर में ही मतदान की सुविधा

कलेक्टर नीरज कुमार सिंह ने बताया कि मतदाता सूची के अंतिम प्रकाशन के पश्चात जिले में कुल मतदाताओं की संख्या 940069 हैं, जिनमें पुरुष मतदाताओं की संख्या 486657, महिला मतदाताओं की संख्या 453377 एवं 35 अन्य मतदाता है। 18 से 19 वर्ष आयु के नवीन मतदाताओं की संख्या 43603 हैं, जिनमें 23797 पुरुष एवं 19806 महिला शामिल हैं। जिले में 80 प्लस आयु के मतदाताओं की संख्या 10905 है जिनमें 4440 पुरुष एवं 6465 महिलाएं शामिल है। मतदाता सूची का लिंगानुपात 931.62 है एवं ईपी रेशों 66.72 हैं। जिले में दिव्यांग मतदाताओं की संख्या 8988 है जिनमें 5733 पुरुष एवं 3255 महिला शामिल हैं। वहीं सर्विस वोटर की संख्या 1894 हैं।। दिव्यांग और 80 प्लस आयु के मतदाताओं को उनके घर में ही निर्धारित प्रोटोकॉल का पालन करते हुए मतदान की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी। जिसके लिए उन्हें 5 दिन पूर्व 12 डी आवेदन करना होगा।

जिले में 1187 मतदान केंद्रों पर मतदान

जिले में आगामी विधानसभा निर्वाचन के लिए कुल मतदान केद्रों की संख्या 1187 है, जिनमें सिवनीमालवा (Sivanimalwa) विधानसभा अंतर्गत 318 , होशंगाबाद (Hoshangabad) विधानसभा में 238, सोहागपुर (Sohagpur) विधानसभा में 314 एवं पिपरिया (Pipariya) विधानसभा में 317 मतदान केंद्र शामिल हैं।

प्रतिबंधात्मक आदेश लागू

सभी शस्त्र लायसेंस निलंबित कर दिए हैं। लायसेंस धारकों से उनके शस्त्र निकटतम पुलिस थाने में जमा कराने की कार्यवाही प्रारंभ कर दी गई है। अंर्तजिला मार्गों पर 13 स्थानों पर नाकाबंदी की गई है। जिले में 6 स्थैतिक निगरानी दल बनाये गये हैं। जिले की सीमा पर चैक पोस्ट/नाके स्थापित कर स्थैतिक निगरानी दल तैनात किये हैं। जिनके माध्यम से इन मार्गों पर होने वाले आवागमन पर नजर रखी जायेगी। जो अवैध शराब, 50 हजार से अधिक कैश, उपयोगी वस्तुएं आदि की निगरानी की जाएगी। कोलाहल नियंत्रण अधिनियम के तहत रात्रि 10 बजे से सुबह 6 बजे तक लाउडस्पीकर के उपयोग पर प्रतिबंध रहेगा। संपत्ति विरूपण अधिनियम के तहत पहले 24 घंटे में सभी शासकीय कार्यालयों,48 घंटे में सभी सार्वजनिक स्थानों एवं 72 घंटे में सभी निजी स्थानों पर जहां बिना अनुमति के प्रचार सामग्री लगाई गई है वहां संपत्ति विरूपण की कार्यवाही की जाएगी।

12 दस्तावेजों के आधार पर होगी पहचान

विधानसभा निर्वाचन 2023 के लिये आयोग ने जो 12 दस्तावेज, मतदाताओं की पहचान के लिये वैध माने हैं, उनमें आधार कार्ड, मनरेगा का जॉब कार्ड, बैंक या पोस्ट ऑफिस की फोटो युक्त पासबुक, स्वास्थ्य बीमा संबंधी स्मार्ट कार्ड, ड्रायविंग लाइसेंस, पेनकार्ड, भारत का पासपोर्ट, पेंशन का फोटोयुक्त दस्तावेज, शासकीय कर्मचारियों के लिये उनके संस्थान द्वारा जारी फोटोयुक्त परिचय पत्र, दिव्यांगों के लिये यूडीआईडी कार्ड तथा सांसद व विधायकों के लिये जारी परिचय पत्र।

अभ्यर्थियों के एफिडेविट पोर्टल पर उपलब्ध रहेंगे

आयोग द्वारा केंडिडेट एफिडेविट पोर्टल:  https://affidavit.eci.gov.in/ तैयार किया है। इस पोर्टल पर अभ्यर्थियों की प्रोफाइल, नामांकन का स्टेटस तथा उनके द्वारा प्रस्तुत एफिडेविट ऑनलाइन उपलब्ध रहेंगे।

सी-विजिल एप या दूरभाष पर कर सकते हैं शिकायत

पुलिस अधीक्षक डॉक्टर गुरकरन सिंह ने बताया कि ने जिले में कुल 346 क्रिटिकल एवं 45 वलनरेबल मतदान केंद्र चिन्हित किए गए हैं। जहां शांतिपूर्ण निर्वाचन संपन्न कराने पर्याप्त बल की व्यवस्था की जा रही है। अपराधिक तत्वों के विरुद्ध भी लगातार कार्रवाई जारी हैं। आम्र्स एक्ट अंतर्गत कार्यवाही के साथ ही जिले की सीमाओं पर एफएसटी/एसएसटी भी पूरी तरह सक्रिय की गई है। उन्होंने बताया कि विधानसभा निर्वाचन के दौरान कोई भी व्यक्ति निर्वाचन प्रक्रिया में अनियमितता संबंधी शिकायत ‘सी-विजिल’ एप के माध्यम से दर्ज करा सकता है। इस एप में आवेदक को शिकायत संबंधी फोटो अथवा वीडियो उसकी लोकेशन के साथ अपलोड करने की सुविधा भी उपलब्ध है। उन्होंने बताया कि निर्वाचन आयोग के दूरभाष क्रमांक 1950 पर भी शिकायत दर्ज कराई जा सकती है। बताया कि निर्वाचन के लिए जिला स्तरीय नियंत्रण कक्ष स्थापित कर दिया है, जिसका दूरभाष क्रमांक 07574 /251292 है।

जिले का सबसे दूर एवं दुर्गम मतदान केन्द्र हैं नांदिया

सतपुड़ा पर्वत पर स्थित चौरागढ़ महादेव पर्वत के पीछे स्थित नर्मदापुरम जिला मुख्यालय से 165 किमी की दूरी पर मतदान केन्द्र नांदिया विधानसभा क्षेत्र 139 पिपरिया में स्थित है। नांदिया मतदान केन्द्र अंतर्गत नांदिया, सूपडोगर एवं विनोरा ग्राम के मतदाता मतदान करने आते हैं। यह शत प्रतिशत जनजातीय बाहुल्य क्षेत्र हैं। इस मतदान केन्द्र में वर्ष 2018 विधानसभा निर्वाचन में 86.27 प्रतिशत एवं वर्ष 2019 लोकसभा निर्वाचन में 87.37 प्रतिशत मतदान हुआ पुरूषों की तुलना में महिला मतदान का प्रतिशत अधिक रहा। वर्तमान में नांदिया मतदान केन्द्र क्षेत्र में 671 मतदाता (पुरूष 347 + महिला – 324), जेंडर रेशो 933.72 है। दुर्गम क्षेत्र होने के कारण इस मतदान केन्द्र के लिए विशेष रूप से मतदान दल को पृथक वाहन से भेजा जाता है। जिला प्रशासन द्वारा नंदिया मतदान केंद्र पर सभी आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जाएगी।

CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

error: Content is protected !!