नर्मदा-तवा नदी के संगम पर बांद्राभान मेला 6 नवंबर से

नर्मदा-तवा नदी के संगम पर बांद्राभान मेला 6 नवंबर से

– कलेक्टर ने बैठक कर दिये तैयारियां पूर्ण करने के निर्देश
नर्मदापुरम। पावन नर्मदा (Holy Narmada) और तवा नदी (Tawa River) के संगम स्थल (Sangam Site) बांद्राभान (Bandrabhan) में कार्तिक मास की पूर्णिमा पर लगने वाला बांद्राभान मेला (Bandrabhan Mela) 6 से 9 नवंबर तक चलेगा। मेले की तैयारियों की संबंध में आज कलेक्टोरेट (Collectorate) में कलेक्टर नीरज कुमार सिंह (Collector Neeraj Kumar Singh) की अध्यक्षता में बैठक हुई।
बैठक में जनपद अध्यक्ष नर्मदापुरम भूपेंद्र चौकसे, जनपद उपाध्यक्ष श्रीमती मंजुलता पटेल, पुलिस अधीक्षक डॉ गुरकरन सिंह, जिला पंचायत सीईओ मनोज सरियाम, अपर कलेक्टर मनोज सिंह ठाकुर, एडिशनल एसपी अवधेश प्रताप सिंह, भगवती चौरे तथा अन्य जनप्रतिनिधि एवं अधिकारी उपस्थित रहे। कलेक्टर श्री सिंह नेमेला अवधि के दौरान कानून व्यवस्था के लिए कार्यपालक मजिस्ट्रेट (Executive Magistrate) की नामजद ड्यूटी लगाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि वाहन शुल्क, परमिट आदि की प्रक्रिया भी शीघ्र पूर्ण की जाए।

समुचित व्यवस्थाएं के दिए निर्देश

कलेक्टर श्री सिंह ने नगर पालिका एवं जनपद नर्मदापुरम को निर्देश दिए कि मेला स्थल पर सफाई का विशेष ध्यान रखें। नगर पालिका के सफाई दल से मेले से पूर्व सफाई करायें। कचरा डालने के लिए 100 बड़े ड्रम की भी व्यवस्था करें। मेले के दौरान चलित शौचालय भी पर्याप्त संख्या में लगाए जाएं। कलेक्टर श्री सिंह ने मेले के दौरान पेयजल की बेहतर व्यवस्थाएं किए जाने के निर्देश लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग को दिए। उन्होंने कहा कि स्थल पर ले आउट (Layout) डालकर पाइप लाइन (Pipeline) डालने की कार्यवाही 2 नवंबर तक पूर्ण की जाए। सुचारु व्यवस्था के लिए पंप ऑपरेटर (Pump Operator) की 3 शिफ्ट में ड्यूटी लगाई जाएं। उन्होंने एमपीईबी (MPEB) को भी स्थल पर बिजली की बेहतर व्यवस्था करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि रात्रि में बिजली जाने की समस्या न हो इसके लिए भी वैकल्पिक व्यवस्था की जाए।

डेडीकेटेड अनाउंसमेंट (Dedicated Announcement System) लगाएं

कलेक्टर श्री सिंह ने कहा कि नदी में उतरकर नहाने वाले, दुकानों एवं वाहनों की सतत निगरानी एवं उन्हें सचेत करने के लिए अलग-अलग डेडीकेटेड अनाउंसमेंट सिस्टम लगाए जाए। खोया पाया केंद्र पर मिले बच्चों के लिए आंगनवाड़ी की टीम लगाई जाएं। यहां बच्चों को बहलाए रखने चॉकलेट एवं बिस्किट्स की भी व्यवस्था रहे। सुरक्षा के दृष्टिगत होमगार्ड (Home Guard) के अमले को संवेदनशील क्षेत्र चिन्हित कर वहां बैरिकेडिंग एवं फ्लैग लगाने की कार्यवाही के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि नदी क्षेत्र में होमगार्ड के अमले द्वारा निरंतर पेट्रोलिंग की जाए। साथ ही तैराकी में दक्ष दल को भी वहां तैनात करें। आगजनी से सुरक्षा के लिए अग्निशमन यंत्रों की भी व्यवस्था करें। आवारा मवेशियों को हटान नगर पालिका ाका दल भी तैनात करें। इन सभी व्यवस्थाओं के संबंध में सीहोर के स्थानीय प्रशासन के साथ भी बैठक की जाए।

मेडिकल की टीम तैनात करें

कलेक्टर श्री सिंह ने मेले में आए श्रद्धालुओं के लिए बेहतर चिकित्सा व्यवस्था के लिए मेला अवधि के दौरान राउंड द क्लॉक (Round the Clock) मेडिकल की टीम (Medical Team) तैनात करने के निर्देश दिए। उन्होंने मेला स्थल पर कंट्रोल रूम (Control Room) के पास एंबुलेंस वाहन की भी व्यवस्था, लोक निर्माण विभाग, प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना सहित अन्य सड़क निर्माण से जुड़े विभागों को सड़क मरम्मत के कार्य शीघ्र पूर्ण करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि मार्गों के संवेदनशील मोड़ पर डिस्प्ले बोर्ड भी लगाएं जाए। कलेक्टर श्री सिंह ने पार्किंग के लिए बेहतर कार्ययोजना बनाने के निर्देश भी दिए।

CATEGORIES
TAGS
Share This

AUTHORRohit

I am a Journalist who is working in Narmadanchal.com.

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus (0 )
error: Content is protected !!