रेलवे स्टेशन अधीक्षक के कार्यालय में सेंधमारी

इटारसी। रेलवे प्लेटफार्म एक पर एफओबी के नीचे संचालित स्टेशन अधीक्षक कार्यालय में सेंधमारी का मामला सामने आया है। शुक्रवार-शनिवार रात कार्यालय के पीछे थ्रू वेटिंग लाइन साइड की खिड़की की ग्रिल और जाली तोड़कर चोरी हुई है।

रोज शाम 6 बजे दफ्तर बंद कर यहां पदस्थ सारे अधिकारी-कर्मचारी चले गए थे, शनिवार सुबह कार्यालय खुला तो खिड़की टूटी हुई मिली। स्टेशन प्रबंधक देवेन्द्र सिंह चौहान की सूचना पर आरपीएफ एवं जीआरपी दोनों एजेंसियों के जवानों ने आकर जांच पड़ताल की। दफ्तर में किसी तरह की संपत्ति या नगदी नहीं रहती है, लेकिन रेलवे परिचालन विभाग एवं कर्मचारियों से जुड़े अहम दस्तावेजों का पूरा रिकार्ड आलमारी में रहता है।

रेलवे के गोपनीय दस्तावेज एवं फाइलें भी यहां मौजूद हैं, जिसमें सारे कर्मचारियों अधिकारियों का सर्विस रिकार्ड एवं उपकरण मौजूद हैं। कर्मचारियों ने बताया कि दो आलमारी के ताले टूटे हुए मिले हैं, अंदर मंदिर में लगी रंगीन बल्व की सीरिज भी चोरी हुई है।दफ्तर के पिछले हिस्से से मालगोदाम जाने वाली रेल लाइन गुजरी है, जहां दिन भर मालगाड़ियों की आवाजाही रहती है, इस वजह से यह इलाका सुनसान रहता है। इस एरिए में रेलवे के खुफिया कैमरों की लोकेशन भी नहीं है।  आरपीएफ आउटर एरिया में लगे कैमरों को देखकर पता करेगी कि अंदर बाउंड्री कूदकर कहीं अज्ञात तत्व तो नहीं गए थे।

कर्मचारियों ने बताया कि पिछले हिस्से में दो हवादार खिड़की हैं, इनमें से एक तो आलमारी से दबी है, लेकिन दूसरी खुली हुई है, चोरों ने खिड़की की ग्रिल और जाली भी चुराई है, इसे तोड़ने के लिए सब्बल या किसी उपकरण से तोड़फोड़ भी की गई है, चूंकि दीवार टूटी हुई पाई गई है, पास में एक स्टूल रखकर बाहर कूदने का प्रयास किया गया है।

CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

error: Content is protected !!