वर्धमान स्कूल के बच्चों ने किया रामलीला का अद्भुत मंचन

वर्धमान स्कूल के बच्चों ने किया रामलीला का अद्भुत मंचन

इटारसी। वर्धमान पब्लिक स्कूल के बच्चों ने बीती रात रामलीला का अद्भुत मंचन करके उपस्थित पालक और अतिथियों को हैरत में डाल दिया। नर्सरी से कक्षा चार तक के बच्चों की अदायगी काबिल-ए-तारीफ रही। करीब एक घंटे के प्ले में दर्शक अपनी जगह पर मंत्रमुग्ध होकर बैठे और नन्हे बच्चों की कला के आगे मानो नतमस्तक हो गये। सीता हरण, लंका दहन, रामसेतु का निर्माण, युद्ध में लक्ष्मण जी को शक्ति लगना, हनुमान जी का आकाश मार्ग से संजीवनी बूटी लेकर आना, राम-रावण युद्ध और रावण के पुतले का दहन में इतना कुशलता देखने को मिली कि लगा ये दक्ष कलाकार हैं। श्रीरामलीला मंचन की शुरुआत नौ देवियों की पूजन-आराधना, आरती से हुई।

इस दौरान वर्धमान स्कूल के संचालक प्रशांत जैन ने कहा कि वर्धमान मध्यप्रदेश के सर्वश्रेष्ठ स्कूलों में से एक है जहां के विद्यार्थियों को पढ़ाई के साथ-साथ सत्र भर नैतिक एवं सांस्कृतिक शिक्षा पर भी ध्यान दिया जाता है। अतिथियों ने कहा कि यहां बच्चों का यह अद्भुत कलाकारी देखकर लगा कि स्कूल में शिक्षा और संस्कार का संगम है, यहां बच्चों का भविष्य उज्ज्वल है। शाला के वार्षिक कैलेण्डर के अनुसार वर्धमान की जूनियर विंग द्वारा नवरात्रि का पावन पर्व बड़े ही धूमधाम से मनाया जिसमें कक्षा नर्सरी से लेकर कक्षा 4 तक के विद्यार्थियों द्वारा विशाल रामलीला का एक दिवसीय मंचन जयप्रकाश सोनी के निर्देशन में किया। श्री रामचरितमानस के विभिन्न खंडों का जीवंत मंचन उपस्थित दर्शकों को खूब भा गया। राम लीला के इस मंचन में 300 से अधिक बच्चों ने अपने अपने किरदार को बखूबी निभाया।

संपूर्ण रामलीला का संचालन संस्था की जूनियर विंग अध्यापिका राखी चौरे एवं श्रीजा नायडू ने किया। उन्होंने श्रीरामचरितमानस को वर्तमान परिवेश से जोड़ते हुये बताया कि यदि किसी भी प्रकार का प्रबंधन सीखना हो श्रीरामचरित मानस से सीखा जाये इसका प्रत्येक पात्र अपने आप में एक कुशल प्रबंधक है, चाहे अंगद का पैर जमाना हो या हनुमान जी की स्वामी भक्ति। इस दौरान बतौर अतिथि नर्मदापुरम पत्रकार संघ के संभागीय अध्यक्ष रोहित नागे, वरिष्ठ पत्रकार कृष्णा राजपूत, राहुल शरण, सुश्री मंजू ठाकुर ने भगवान राम और मां जानकी की आरती की। आकर्षण का केन्द्र रही विशेष ट्रेन रामलीला के इस कार्यक्रम में भगवान श्रीराम लंका से अयोध्या में वापस एक विशेष टॉय ट्रेन आये।

संस्था प्रबंधक प्रशांत जैन ने बताया कि ये टॉय ट्रेन विशेष रूप से आज के लिये ही ली गई है एवं एवं सत्र भर यह टॉय ट्रेन वर्धमान जूनियर के बच्चों का मनोरंजन करेगी। वर्धमान के इस धार्मिक आयोजन में रामलीला के पश्चात गरबा का आयोजन भी दो राउॅड में किया जिसमें प्रथम राउॅड में अभिभावकों ने अपने बच्चों के साथ गरबा किया एवं द्वितीय राउॅड में अन्य सभी आमंत्रित अतिथियों ने गरबा किया। गरबा एवं रामलीला के गरबा में वेस्ट गरबा, वेस्ट कास्ट्यूम, वेस्ट मेकअप, एवं वेस्ट मम्मी व बच्चे की जोड़ी पर भी प्राईस की व्यवस्था थी।

सुबह निकाली प्रभातफेरी

आज सुबह वर्धमान परिवार के सभी सदस्यों ने प्रभात फेरी का भी आयोजन किया। प्रभात फेरी वर्धमान स्कूल से निकल कर नगर के विभिन्न मार्गों से होती हुई वापस स्कूल आई। प्रभात फेरी भगवान श्रीराम दरबार संपूर्ण वानर सेना के साथ निकाली गई जिसका स्वागत इटारसी के सामाजिक एवं खेल संस्थाओं ने जगह-जगह किया। सभी को संबोधित करते हुये संस्था प्रबंधक प्रशांत जैन ने बताया कि सभी को अपने जीवन में श्रीरामचरितमानस का अध्ययन कम से कम एक बार संपूर्ण गंभीरता से साथ अवश्य करना चाहिये क्योंकि इसमें जीवन के हर रूप का वृतांत है एवं इसे अध्ययन से आप अपने आप को किसी भी प्रकार की कठिनाईयों से जीतने के लिये तैयार कर सकते है। कार्यक्रम का आयोजन वर्धमान जूनियर की डायरेक्टर प्रशस्ति जैन एवं विंग हेड पूजा पटेल के नेतृत्व में किया जिसमें संस्था के प्रत्येक टीचर्स ने अपना शत-प्रतिशत योगदान दिया।

CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

error: Content is protected !!