कोहरे ने सुबह-सुबह बढ़ाई ठंड, हल्की हवा भी दे रही थी चुभन

कोहरे ने सुबह-सुबह बढ़ाई ठंड, हल्की हवा भी दे रही थी चुभन

इटारसी। सोमवार की सुबह कोहरे (Fog) की चादर ओढ़ आयी। अल सुबह घना कोहरा था, कुछ देर के लिए कम हुआ और सात बजे से फिर घना कोहरा हो गया। सुबह दस बजे तक कोहरे का असर हल्का हो गया था, लेकिन सूर्य (Sun) की किरणों की गैरमौजूदगी के कारण कोहरे का असर साफ दिख रहा था। कोहरे से ठंड तो बढ़ी साथ ही हल्की हवाएं भी चुभ रही थी।

सुबह का आलम यह था कि देखते ही देखते पूरा शहर कोहरे की चादर से ढंक गया। इस कारण सड़क पर दौडऩे वाले वाहनों की रफ्तार कुंद हो गई। हाईवे (Highway) पर वाहनों की रफ्तार 30-40 किलोमीटर प्रतिघंटा रही। सुबह के समय वाहन चालकों लाइट (Light) का सहारा लेना पड़ा। आज सूर्य की हल्की किरण भी नहीं निकली। कोहरे ने आसमान को चारों तरफ से घेर लिया और देखते ही देखते चारों तरफ घना कोहरा छा गया। अचानक प्रकृति के इस बदलाव का देख हर कोई हैरान रह गया। अहसास हो गया कि अब ठंड शुरू हो गई। क्योंकि पिछले दो दिन पूर्व तक बारिश का दौर था।

कोहरा अधिक होने के कारण सबसे ज्यादा दिक्कत सड़क पर आने वाले वाले वाहनों व राहगीरों को हुई। सुबह के समय जो वाहन सड़कों पर फर्राटा भरते नजर आते थे उनकी रफ्तार को कोहरे ने रोक दिया। शहर के अंदर वाहन लाइट जलाकर आते जाते दिखे। ग्रामीण क्षेत्रों में भी कोहरा और ही घना रहा। हालांकि सर्दी के मौसम में कोहरा होना एक आम बात है लेकिन कई बार कोहरा होने की वजह से अपारदर्शिता आ जाती है। कोहरा सामान्यता दिसंबर अंत में ज्यादा पड़ता है।

सुबह ओवरब्रिज पर वाहन लाइट जलाकर चल रहे थे, द ग्रेंड एवेन्यू कालोनी के सामने सोनासांवरी गांव दिखाई नहीं दे रहा था। देशबंधुपुरा में रोड पर एसबीआई चौराह भी धुुंध की भेंट चढ़ा था। गलियों में भी दूर तक देखना संभव नहीं था। रेलवे ट्रेक भी कोहरे में ढंका था तो रोडों पर वाहनों को लाइट जलाकर चलना पड़ा।

CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

error: Content is protected !!