मंगलवार, मई 28, 2024

LATEST NEWS

Related Posts

झरोखा : उज्जैनी आस्था उत्सव के उजास में झूमी

* राजधानी से पंकज पटेरिया :
कालों के काल महाकाल की पावन नगरी उज्जैनी में उमड़े भक्ति आस्था और श्रद्धा के महोत्सव में उपस्थित प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की दिव्य उपस्थिति तथा शिव महालोक के लोकार्पण और इसके साक्षी बन उपस्थित हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान मनीषी साधु संत और जन सैलाब से उत्पन्न हर्षोल्लास की अल्लाहदकारी आनंद वृष्टि से सूबे सहित राजधानी भी जी भर नख सिख स्नान कर मंत्र मुग्ध हो झूम उठी।
सिंधुरी शाम राजधानी झील में जब दीप धर रही थी। अवंतिका में आस्था पुरुष हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगवानी में उज्जैनी मालवी माधुर्य पगे सहज जनसैलाब अपनी पलक पावडे बिछा रहा था। अपनी राजधानी भोपाल भी महाकाल के महोत्सव की महक में मुदित होकर झूमने लगी थी। हर घर में जय महाकाल जय मोदी के हर्ष घोष के साथ दीपमाला सज रही थी। राजधानी के प्रमुख मंदिर लक्ष्मी नारायण मंदिर, बिरला मंदिर, गुफा मंदिर, करुणा धाम मंदिर, भवानी मंदिर सोमवार, श्री हनुमान मंदिर, न्यू मार्केट झरनेश्वर महादेव आदि छोटे बड़े मंदिरों नयनाभिराम साज सज्जा की गई। सुंदर मनोहारी सजावट दीपमाला और पुष्प गंध से राजधानी का परिवेश अलौकिक होता ऐसा लग रहा था कि महाकाल के महालोक का गणेश द्वार राजधानी बन गई है। यह पत्रकार वाहन से जिस भी क्षेत्र से गुजरा ऐसा ही सुख अनुभव होता रहा।
विभिन्न स्थानों पर लगाए गए स्मार्ट टीवी से उज्जैन से हो रहे लाइव प्रसारण से राजधानी का सारा वातावरण शिवमय हो गया था। एक अद्भुत उमंग पुलकन भरे धर्मालु एक दूसरे को जय महाकाल के रूप में बधाई देते हुए प्रेम सद्भाव से देर रात तक मिलते रहे। अवंतिका के ऐतिहासिक महोत्सव के साक्षी बनी राजधानी के मानस पटल पर यह अदभुत प्रसंग अमिट छाप छोड़ गया। हर हर महादेव की गुंजो की आवृत्ति चतुर्दिक हवा में दीर्घकाल तक अनुभव की जाती रहेंगी।
जय महाकाल नर्मदे हर

PATERIYA JI
पंकज पटेरिया
वरिष्ठ पत्रकार साहित्यकार
9340244352 ,9407505651

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Popular Articles

error: Content is protected !!