सूर्यग्रहण के सुरक्षित अवलोकन के लिये राजेश पाराशर लगायेंगे कैंप

सूर्यग्रहण के सुरक्षित अवलोकन के लिये राजेश पाराशर लगायेंगे कैंप

इटारसी। दीपपर्व के बीच दिखने जा रही आंशिक सूर्यग्रहण (Partial Solar Eclipse) की खगोलीय घटना (Astronomical Event) को इटारसी (Itarsi) सोनासांवरी रेलवेगेट (Sonasawari Railwaygate) तिराहे पर दिखाने विज्ञान शिक्षक राजेश पाराशर (Science teacher Rajesh Parashar) अवलोकन कैंप का आयोजन कर रहे हैं। इसमें पालकों के साथ आने वाले बच्चों के अलावा खगोलविज्ञान (Astronomy) में रूचि रखने वाले अन्य लोगों को वैज्ञानिक सोलर फिल्टर (Scientist Solar Filter) की मदद से ग्रहण का नि:शुल्क अवलोकन कराया जायेगा। शाम 4 से 5 बजे तक सोनासांवरी रेलवे गेट तिराहे पर होगा आयोजन ।

राजेश पाराशर ने बताया

  • – सूर्य का व्यास चंद्रमा के व्यास से 400 गुना है और पृथ्वी से उसकी दूरी भी धरती से चांद की दूरी की तुलना में       400 गुना है। यही कारण है,  पृथ्वी से देखने पर हमें सूर्य और चंद्रमा दोनों का आकार लगभग समान लगता है।
  • – सूर्य ग्रहण साल में दो से पांच बार होता है। हालांकि वर्ष में पांच बार सूर्यग्रहण की स्थिति कम ही होती है।
  • – एक पूर्ण सूर्य ग्रहण की अधिकतम अवधि केवल साढ़े सात मिनिट होती है।
  • – अगर आप भारत में पूर्ण सूर्य ग्रहण को देखना चाहते हैं तो 20 मार्च, 2034 का इंतजार करना होगा।
  • – सूर्यग्रहण को देखने से अगर आप चूकते हैं तो भारत में अगला आंशिक सूर्यग्रहण 2 अगस्त 2027 को होगा।
CATEGORIES
TAGS
Share This

AUTHORRohit

I am a Journalist who is working in Narmadanchal.com.

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus (0 )
error: Content is protected !!