भाजपा से बड़े बदलाव के संकेत, असंतोष कम हुआ, आस जगी

Must Read

इटारसी। नगर पालिका चुनाव में नाम निर्देशन पत्र दाखिल करने की अंतिम तिथि के एक दिन पूर्व भाजपा की सूची में एक बड़ा बदलाव सामने आया है। चर्चा है कि , वार्ड 8 से घोषित भाजपा प्रत्याशी श्रीमती शैली आदित्य मैना की टिकट कैंसिल कर दी गई है। कुछ तकनीकि वजह से यह टिकट कैंसिल हुई है। माना जा रहा है कि अब तीन अन्य दावेदार सुधा बबील कैथवास, ज्योति राजकुमार बाबरिया और लक्ष्मी रूपचंद अहिरवार में से किसी एक का नाम तय हो सकता है।
दरअसल, ये तीनों प्रत्याशी वार्ड 8 की ही निवासी हैं, जबकि भाजपा ने शैली आदित्य मैना का जो नाम घोषित किया था, वे वार्ड 6 की निवासी थीं। लोकल के नामों को नजरअंदाज करके पार्टी ने वार्ड 6 को तबज्जो दी, जिससे यहां के कार्यकर्ताओं में नाराजी तो थी। हालांकि अब तकनीकि कारणों से यह नाम कैंसिल हो गया है तो इस पर चर्चा करना जरूरी नहीं है। अब तीन उम्मीदवारों को फिर से आस जाग गयी है।
बता दें कि यह वार्ड इस बार आरक्षण में अनुसूचित जाति महिला के लिए आरक्षित हो गया है। इससे पहले यहां का प्रतिनिधि प्रियंका बसंत चौहान कर रही थीं। उनके कार्यकाल में यहां काफी विकास कार्य हुए। विधायक डॉ. सीतासरन शर्मा की नजदीकी के कारण उनको वार्ड के विकास के लिए अधिक मेहनत नहीं करनी पड़ी। नगर पालिका और विधायक निधि से काफी राशि इस वार्ड को विकास के लिए मिली है। पूर्व पार्षद श्रीमती प्रियंका बसंत चौहान का कहना है कि वार्ड में कुछेक नालियां बनना शेष है, सड़कें, नालियां, पेयजल की समस्या लगभग हल हो गयी हैं। एक बड़ी उपलब्धि पुराना बंगलिया रेलवे क्रासिंग से नेशनल हाईवे 69 तक 70 लाख की लागत से रोड निर्माण और पेयजल की समस्या का समाधान करना है। इसके अलावा सफाई, पौधरोपण तथा वार्ड के कुछ युवाओं को रोजगार की व्यवस्था भी करायी थी। वार्ड की निवासी पुष्पा ठाकुर बताती हैं कि पहले पेयजल की बड़ी समस्या थी, इस बार ज्यादा परेशानी नहीं हुई। राकेश बोरासी का कहना था कि कई गलियों में सड़कें नहीं थीं, एक बड़ी सड़क बहुप्रतीक्षित थी जो इस कार्यकाल में पूर्ण हो गयी। किशोरीलाल बोरासी ने बताया कि वार्ड में लगभग हर तरफ काम हुए हैं, आगे भी होंगे, ऐसी अपेक्षा है। कांग्रेस से अभी नाम आना बाकी है, और पूर्व पार्षद श्रीमती शारदा बामने और कांग्रेस नेता किशोर मैना की बहू का नाम भी दावेदारों में लिया जा रहा है। हालांकि घोषित नाम कैंसिल होने से भाजपा से भी नया नाम आना शेष है।
वार्ड क्रमांक दस में भाजपा प्रत्याशी ने अपना प्रचार प्रारंभ कर दिया है। प्रचार का तरीका, घर-घर जाकर मतदाताओं का मन टटोलना प्रारंभ कर दिया है। भाजपा ने यहां से समीना नफीस अहमद सिद्दीकी को टिकट दिया है। नफीस अहमद पिछले कई वर्षों से वार्ड के मतदाताओं से सीधे संपर्क में रहे हैं और शासकीय योजनाओं का जनता तक पहुंचाना और अन्य कार्य करते रहे हैं। पार्टी ने उनकी इसी सेवाभाव को देखते हुए टिकट दिया है। उनके सामने इस वार्ड से पहले पार्षद रहे इरशाद अहमद सिद्दीकी की पत्नी श्रीमती रफतजहां सिद्दीकी ने कांग्रेस से दावेदारी की है। वे स्वयं भी यहां से एक बार पार्षद रह चुकी हैं। 1830 मतदाताओं वाले इस वार्ड में जलभराव की बड़ी समस्या थी, जो बड़ा नाला बनने से लगभग हल हो चुकी है। भीतरी गलियों की सड़कें भी ज्यादातर बनी हैं।

spot_img
- Advertisement -spot_img

Latest News

श्री द्वारिकाधीश मंदिर से निकली श्रीराम जी की बारात, भक्ति में झूमे नगरवासी

इटारसी। देवल मंदिर में हो रहे श्रीराम विवाह महोत्सव एवं नि:शुल्क सामूहिक विवाह के अंतर्गत आज सोमवार को श्री...

More Articles Like This

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: