जैन समाज द्वारा मौन जुलूस व रैली कल

इटारसी। जैन धर्मावलंबियों के सबसे पवित्र तीर्थ श्री सम्मेद शिखरजी को झारखंड सरकार की अनुशंसा पर केंद्र सरकार द्वारा पर्यटन क्षेत्र घोषित किया गया है।

श्री सम्मेद शिखरजी अनादि काल से जैन धर्म का प्रमुख जैन तीर्थ है और केंद्र सरकार द्वारा उसे पर्यटन स्थल घोषित करना पूर्णत: गलत व निंदनीय आदेश है इस आदेश को वापस लिए जाने के परिपेक्ष्य में कल सकल जैन समाज, इटारसी द्वारा श्री महावीर जैन समिति के आह्वान पर एक विशाल मौन रैली कल 17 दिसंबर को महावीर भवन से प्रारंभ होकर विभिन्न मार्गों से होते हुए जयस्तंभ पर राष्ट्रपति व  प्रधानमंत्री के नाम पर एक ज्ञापन अनुविभागीय अधिकारी इटारसी को प्रेषित करेंगे। 

सभी शहरवासियों से भी जैन समाज इटारसी ने अनुरोध किया है कि इस गलत निर्णय के विरोध में अपना मौन समर्थन समाज को प्रदान करें। कल 17 दिसंबर 2022 को प्रातः 10:00 यह रैली महावीर भवन पहली लाइन से प्रारंभ होकर जयस्तंभ पर लगभग 11:30 बजे समाप्त होगी।

इस दौरान इटारसी जैन समाज के सभी व्यापारिक प्रतिष्ठान कल 17 दिसंबर को 12:00 बजे तक बंद रहेंगे।

CATEGORIES
Share This
error: Content is protected !!