रेलवे के आउटर्स पर बड़ी संख्या में सक्रिय हैं अवैध वेंडर्स

जेडआरयूसीसी मेंबर राजा तिवारी ने बैठक में उठाये मुद्दे
इटारसी।
जोन और मंडल के अधिकारियों के लगातार दौरों से रेलवे स्टेशन पर अवैध वेंडरिंग में कमी आयी है, लेकिन आउटर्स पर बड़ी संख्या में अवैध वेंडर्स सक्रिय हैं, जो यात्रियों को घटिया स्तर का भोजन परोसकर उनकी सेहत से खिलवाड़ कर रहे हैं। आउटर्स पर जिन जवानों की ड्यूटी होती है, वे नदारद रहते हैं या इन वेंडर्स की अनदेखी करते हैं। इन वेंडर्स पर तत्काल प्रभाव से कार्रवाई कर रोक लगायी जाना चाहिए।

यह ज्वलंत मुद्दा कल जबलपुर में हुई जोनल रेलवे उपयोकर्ता सलाहकार समिति की बैठक में जेडआरयूसीसी मेंबर राजा तिवारी ने रेलवे के अधिकारियों के समक्ष रखा। उन्होंने कहा कि रेलवे स्टेशन पर आईजी के निर्देश पर टीम तैनात होने और डीआरएम और सीनियर डीसीएम की सक्रियता से अवैध वेंडरों पर लगाम लगी ह,ै मगर आउटर पर अभी भी अवैध वेंडर सक्रिय हैं।

ट्रेनों में पर्चे बांटकर यात्रियों से लूट

ट्रेनों में पर्चे बांटे जाते हैं, जिनमें इटारसी के रेस्टॉरेंट के नाम अंकित होते हैं, लेकिन ग्राउंड पर ऐसे कोई रेस्टॉरेंट हैं ही नहीं। इन पर्चों पर अंकित नंबर्स पर यात्री काल करते हैं तो अवैध वेंडर उनको खाना पहुंचाते हैं, जो घटिया किस्म का होता है। ये लोग निम्न स्तर की भोजन सामग्री परोस कर यात्रियों के जीवन से खिलवाड़ कर रहे हैं और यह सब खेल मिलीभगत बिना संभव नहीं हैं, इस पर तत्काल रोक लगाई जाए।

मैमू ट्रेन चलाने सहित अन्य मांगें

श्री तिवारी ने भोपाल से इटारसी के बीच मैमू ट्रेन चलाने का भी प्रस्ताव रखा। उन्होंने कहा कि इसकी मांग पहले भी कई बार उठ चुकी है। मैमू ट्रेन से सैकड़ों आने-जाने वाले विद्यार्थी एवं छोटे व्यवसायियों लाभ मिल सकेगा। इसके साथ ही उत्तर बंगलिया इटारसी में अंडर ब्रिज का निर्माण कराने की महती आवश्यकता है, क्योंकि हजारों लोगों को आवागमन के लिए 03 किलोमीटर का चक्कर लगाना पड़ता है।

जेडटीसी शुरु करने का सुझाव

करोड़ों की लागत से विद्युत लोको शेड में सिमुलेटर तैयार है जिसमें लोको पायलट को अत्याधुनिक ट्रेनिंग दी जा रही है। जबलपुर जोन के लिए आवश्यक जोनल ट्रेनिंग सेंटर को इस जगह पर शुरू किया जा सकता है। उन्होंने बताया कि 12 बंगला न्यू यार्ड रेलवे कालोनियों में अंदरूनी सड़कों की हालत बेहद खराब है जिससे हजारों लोगों को आवागमन में परेशानी हो रही है, इन सड़को का जीर्णोद्धार किया जाना आवश्यक है।

रेलवे स्टेशन का सौंदर्यीकरण

एक प्रस्ताव इटारसी रेलवे के सौंदर्यीकरण का भी दिया है। उन्होंने कहा कि इटारसी रेलवे का बड़ा जंक्शन है और उसके लिहाज से स्टेशन परिसर का सौंदर्यीकरण नहीं हुआ है, इसलिये इस जगह पर सौंदर्यीकरण की योजना बनाकर उस पर काम किया जाना चाहिए ताकि यात्रियों को यहां बेहतर वातावरण मिल सके और गंदगी से भी निजात मिल सके।

भूखंड का सदुपयोग हो

इटारसी रेल जंक्शन से महज 300 मीटर की दूरी पर रेलवे का विशाल भूखंड है, इस पर कभी 18 बंगला और 20 खोली रेलवे कॉलोनियां हुआ करती थीं जब यह भूखंड पूरी तरह से खाली है और मकान लगभग टूट चुके हैं। इस भूमि का उपयोग रेलवे स्वयं के होटल्स बनाकर भी कर सकते हैं, इससे न सिर्फ लोगों को रोजगार मिलेगा बल्कि यात्रियों को बेहतर ठहरने की सुविधा और खानपान की सुविधा प्राप्त हो सकेगी। रेलवे चाहे तो इसे प्राईवेट कंपनियों से भी करा सकता है।

पार्सल आफिस की शिकायत

इटारसी स्टेशन का रेलवे पार्सल ऑफिस सदा चर्चा में बना रहता है, क्योंकि लगातार लापरवाही के चलते व्यापारियों के सामान इटारसी स्टेशन न उतरकर दूसरे स्टेशनों पर लगातार जा रहे हैं, यह शिकायत आम हो गई है। इटारसी रेलवे पार्सल आफिस में लगातार पार्सल करने वालों के साथ अधिक राशि वसूल करने की शिकायत भी आम हो गई है, इस पर तत्काल अंकुश लगाया जाना चाहिए।

सनखेड़ा गेट की समस्या

जबलपुर मंडल के अंतर्गत ग्राम सनखेड़ा में गेट क्रमांक 226 प्रस्तावित अंडर ब्रिज के निर्माण के साथ अप्रोच रोड बनाई जाये जिससे ग्रामीण जन निकल सकें, अन्यथा ग्रामीणों को आगमन में परेशानी का सामना करना पड़ेगा। इस ओर शीघ्र पहल किया जाना चाहिए।

अप साइड रोड का कार्य

भोपाल मंडल के अंतर्गत बानापुरा रेल्वे स्टेशन पर चल रहा अंडर ब्रिज गेट के 220 पर अप साइट की रोड का कार्य शीघ्र कराया जाए। नर्मदापुरम फुट ओवर ब्रिज का भमि पूजन विगत 2 माह पूर्व किया जा चुका है लेकिन आज तक इसका कार्य प्रारंभ नहीं हो सका है जिससे क्षेत्र की जनता को पेरशानी का सामना करना पड़ रहा है, अति शीघ्र कार्य प्रारंभ कराने हेतु सार्थक पहल की जाए।

CATEGORIES
Share This

AUTHORRohit

error: Content is protected !!