रैगिंग विरोधी नियमों को सख्ती से लागू किया जाएगा, छात्राओं को मिलेंगे आत्मरक्षा के गुण

रैगिंग विरोधी नियमों को सख्ती से लागू किया जाएगा, छात्राओं को मिलेंगे आत्मरक्षा के गुण

होशंगाबाद। शासकीय गृहविज्ञान महाविद्यालय (Government Home Science College) में एंटी रैगिंग समिति (Anti ragging) की बैठक आयोजित हुई। काॅलेज प्राचार्य डाॅ. कामिनी जैन(Principal Dr. Kamini Jain) की अध्यक्षता में बैठक हुई। जिसमें यूजीसी (UGC) एवं विश्वविद्यालय के निर्देशानुसार अधिवक्ता विजया कदम(Advocate Vijaya Kadam), समाज सेवी बैजू जोसेफ (Samaj Sevi Baiju Joseph), पत्रकार मुकेश भदौरिया एवं पुलिस विभाग के जयश्री रैकवार(Jayshree raikwar) सहित महाविद्यालय के एंटी रैगिंग सदस्य उपस्थित रहें। इस दौरान विजया कदम ने कहा कि पहले रैगिंग का मतलब परिचय प्राप्त करना था लेकिन अब रैंगिग का स्वरूप ही बदल चुका है। प्राचार्य कामिनी जैन ने कहा कि समिति द्वारा लिए गए निर्णय को जिलेभर के महाविद्यालयों में लागू करने का प्रयास किया जाएगा। होमसाइंस काॅलेज में रैगिंग पूर्णत प्रतिबंधित है। अखबारों में रैगिंग के भयावह परिणाम देखने को मिलते हैं। इसका मुख्य उद्देश्य विद्यार्थियों का उत्पीड़न, उत्पात, अनुशासनहीनता, दुव्र्यवहार, कष्ट, परेशानी, कठिनाईयों व मनौवैज्ञानिक हानि एवं भय की भावना से मुक्त करना है। पुलिस विभाग की जयश्री रैकवार ने बताया कि महाविद्यालय में रैगिंग सम्बंधित एक्ट का बोर्ड प्रचार प्रसार आवश्यक है और जगह जगह सीसीटीवी केमरे भी लगाया जाना चाहिए। समिति संयोजक डाॅ ज्योति जुनगरे ने बताया कि यूजीसी एवं विश्वविद्यालय के मार्गदर्शन में रैगिंग विरोधी नियमों का सख्ती से लागू किया जाएगा। इस महाविद्यालय में छात्राओं को आत्मरक्षा के लिए हर साल जूडो एवं कराते का प्रशिक्षण दिया जाएगा।

यह रहे मौजूद
प्राचार्य डाॅ. कामिनी जैन द्वारा गठित समिति में डाॅ. अमिता जोशी, डाॅ. भारती दुबे, डाॅ. हर्षा चचाने, डाॅ. श्रुति गोखले, डाॅ. श्रीकान्त दुबे, कैलाश डोंगरे, डाॅ. विनीत
अग्रवाल, डाॅ. वैशाली लाल, डाॅ. संगीता पारे, डाॅ. कीर्ति दीक्षित, अजय यादव, किरण विश्कर्मा उपस्थित रहे।

CATEGORIES
TAGS

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: