जिला जल एवं स्वच्छता समिति की बैठक आयोजित

जिला जल एवं स्वच्छता समिति की बैठक आयोजित

होशंगाबाद। कलेक्टर धनंजय सिंह की अध्यक्षता में जिला जल एवं स्वच्छता समिति की बैठक आयोजित की गई। बैठक में जिला पंचायत सीईओ मनोज सरियाम(Manoj sareyam,ceo) सहित समिति के सदस्य मौजूद रहे। बैठक में कलेक्टर सिंह(Collector Dhananjay singh) ने राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल(National rural drinking water) कार्यक्रम अंतर्गत प्रगतिरत नल जल योजनाओं के भौतिक एवं वित्तीय प्रगति की समीक्षा की। बैठक में समिति द्वारा सर्वसम्मति से 35 ग्रामों की रेट्रो फिटिंग कार्य की योजनाओं की कुल लागत 844.18 लाख की योजनाओं का अनुमोदन किया गया।

बैठक में कार्यपालन यंत्री लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी एस के गुप्ता (Health mechanics SK Gupta) ने बताया कि जल जीवन मिशन अंतर्गत ग्रामीण क्षेत्रों में मार्च 2024 तक शत प्रतिशत नल कनेक्शन दिए जाने है। जल जीवन मिशन अंतर्गत वित्तीय वर्ष 2020- 21 में जिले को आवंटित लक्ष्य में प्रथम तिमाही में 3040 नल कनेक्शन के लक्ष्य के विरूद्ध शत-प्रतिशत नल कनेक्शन क्रियाशील किए गए है।इसी तरह द्वितीय त्रैमास में 9270 नल कनेक्शन के लक्ष्य के विरुद्ध 9876 एवं तृतीय त्रेमास में 13905 नल कनेक्शन के लक्ष्य के विरुद्ध अभी तक 2553 नल कनेक्शन क्रियाशील किए जा चुके हैं। शेष नल कनेक्शनों को क्रियाशील करने की कार्रवाई पूरी तत्परता से की जा रही है।

बैठक में बताया गया कि पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग मध्यप्रदेश शासन के निर्देश अनुसार ग्रामीण जल प्रदाय योजना क्रियान्वयन एवं प्रबंधन हेतु ग्राम जल एवं स्वच्छता तदर्थ समिति का गठन किया जाएगा। समिति में कुल सदस्यों की संख्या 10 से 15 रहेगी। उक्त समिति में सदस्यों के रूप में ग्राम पंचायत के निर्वाचित प्रतिनिधियों की संख्या 25% होगी तथा शेष सदस्य उपभोक्ताओं में से होंगे ।समिति में 50 प्रतिशत प्रतिनिधि महिलाओं का होगा। 250 से अधिक जनसंख्या वाले समस्त ग्रामों में ग्राम जल एवं स्वच्छता समिति का गठन किया जाएगा। समिति के अध्यक्ष पद के लिए सरपंच /उपसरपंच या प्रशासकीय समिति के प्रधान/ सदस्य में से चयन करना होगा।

CATEGORIES
TAGS

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus ( )
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: