Video : गुरयानी अध्यक्ष, जैन सचिव निर्वाचित, निकाला विजयी जुलूस
Guryani panel captured in advocate union election

Video : गुरयानी अध्यक्ष, जैन सचिव निर्वाचित, निकाला विजयी जुलूस

अधिवक्ता संघ चुनाव में गुरयानी पैनल का कब्जा

इटारसी। अधिवक्ता संघ (Adhivatka Sangh) के लिए आज हुए चुनाव में गुरयानी पैनल (Guryani Panel) का कब्जा हो गया है। इसी पैनल के ज्यादातर पदों पर पहले ही निर्विरोध निर्वाचन हो चुका है। आज अध्यक्ष, वरिष्ठ उपाध्यक्ष और सचिव पद के लिए वोट डाले गये थे। अध्यक्ष पद पर संतोष गुरयानी (Santosh Guryani), उपाध्यक्ष विनोद भावसार (Vinod Bhavsar) और सचिव पद पर पारस जैन (Paras Jain) दोबारा निर्वाचित हुए हैं। पारस जैन पिछले कार्यकाल में भी इसी पद पर रहे हैं। आज सुबह प्रारंभ हुए मतदान में बार एसोसिएशन से जुड़े सदस्यों ने मतदान किया। विधायक डॉ.सीतासरन शर्मा (MLA Dr. Sitasaran Sharma) ने भी दोपहर में जाकर अपने मताधिकार का प्रयोग किया। अधिवक्ता संघ के परिणामों की घोषणा के बाद विजेताओं ने विजयी जुलूस निकाला और उनके समर्थकों ने ढोल की थाप पर जीत की खुशी में जमकर डांस किया। समर्थकों ने विजेताओं को फूल मालाओं से लाद दिया।

इनके बीच चला जीत का संघर्ष

अधिवक्ता संघ के प्रतिष्ठापूर्ण चुनाव में अध्यक्ष पद पर वरिष्ठ अधिवक्ता संतोष गुरयानी ने रिकार्ड मतों से जीत हासिल की। अध्यक्ष पद के लिए हुए त्रिकोणीय संघर्ष में वे जीत गए। इधर सचिव पद में आमने-सामने की टक्कर में पारस जैन ने अपने प्रतिद्धंदी सुुमेर सिंह चौहान को पराजित किया। वरिष्ठ उपाध्यक्ष पद पर विनोद भावसार ने आनंद चौकसे और अनिल शुक्ला को पराजित किया। प्रतिद्धंदी न होने से चार प्रत्याशी पूर्व में ही निर्विरोध निर्वाचित हो चुके हैं जिनमें कोषाध्यक्ष राजेन्द्र मालवीय, ग्रंथपाल राजेश नामदेव, कनिष्ठ उपाध्यक्ष राकेश उपाध्याय एवं सहसचिव अजय चौधरी एकतरफा मैदान मार चुके थे। तीन पदों के लिए रविवार को न्यायालय परिसर में निर्वाचन प्रकिया संपन्न हुई। निर्वाचन अधिकारी के रूप में अधिवक्ता सीके पटेल, जमना मालवीय एवं मनोहर लाल मालवीय ने सुबह नौ बजे से दोपहर 3 बजे तक निर्वाचन प्रक्रिया संपन्न कराई। कार्यकारिणी के 5 सदस्यों में से 4 सदस्य गुरयानी पैनल के निर्विरोध निर्वाचित हो चुके थे। गुरयानी पैनल के हाथ से सचिव पद फिसल गया, जबकि बाकी सभी पदों पर उनके प्रत्याशी जीत गए। नवनिर्वाचित सचिव पारस जैन ने दूसरी दफा जीत हासिल की है। पूर्व के कई चुनावो में सोशल मीडिया प्रभारी रहे प्रियेश पांडेय ने बताया कि इस बार उनकी सक्रियता सिर्फ सचिव पद पर पारस जैन तक थी। उन्होंने सभी विजेताओं को बधाई दी। 

कहीं खुशी तो कहीं थी मायूसी

मतदान प्रक्रिया पूरी होने के बाद मतगणना शुरू हुई। जैसे-जैसे परिणाम आते गए, कहीं खुशी कहीं मायूसी का माहौल बन गया। चुनाव को लेकर सुबह से न्यायालय परिसर में गहमागहमी का माहौल था। अपने समर्थकों के साथ प्रत्याशी चुनाव परिणाम पर नजर गड़ाए हुए थे। शाम करीब 5:30 बजे अध्यक्ष समेत सभी पदों के लिए तस्वीर साफ हो गई, जो जीत गए वे ढोल ढमाकों के साथ खुशी से उछल पड़े, वहीं पराजित हुए प्रत्याशियों के चेहरे पर मायूसी नजर आई। अध्यक्ष पद पर संतोष गुरयानी को 194 मत मिले, वहीं निकटतम प्रतिद्धंदी सत्यनारायण चौधरी को 114 मत प्राप्त हुए। संघ के इस चुनाव को लेकर पिछले पंद्रह दिनों से गहमागहमी बनी हुई थी। पर्दे के पीछे चुनाव में कांग्रेस-भाजपा के नेताओं का हस्तक्षेप भी रहा, इस वजह से मुकाबला रोचकपूर्ण हो गया था।

CATEGORIES
Share This
error: Content is protected !!